पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन, लंबे समय से थे बीमार, कोरोना वायरस से भी थे संक्रमित

चैतन्य भारत न्यूज

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन हो गया है। सोमवार शाम को 84 साल की उम्र में प्रणब मुखर्जी ने अंतिम सांस ली। वह पिछले काफी समय से बीमार थे और उनका इलाज आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में चल रहा था। कई बड़े राजनेताओं ने पूर्व राष्ट्रपति के निधन पर शोक जताया है।

बता दें प्रणब मुखर्जी रविवार को दिल्ली स्थित अपने आवास के बाथरूम में गिरकर चोटिल हो गए थे। इसके बाद उनके मस्तिष्क में एक जगह पर खून का थक्का जम गया था। इस जमे खून को निकालने के लिए उनकी सर्जरी की गई थी। इस जटिल सर्जरी के बाद प्रणब मुखर्जी को वेंटिलेटर पर रखा गया था। इतना ही नहीं बल्कि वे कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए थे। उन्हें अस्पताल में ब्रेन सर्जरी के लिए भर्ती कराया गया था, जहां ये सर्जरी खून के थक्के हटाने के लिए की गई। टेस्टिंग के दौरान ही उनकी कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट पॉजिटव आई थी।

विनम्र और शालीन व्यक्तित्व वाले राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को विवेकशील फैसलों के लिए याद किया जाएगा। वह देश के 13वें राष्ट्रपति थे। प्रणब मुखर्जी कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे हैं। वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खास लोगों में से एक थे। उन्हें देश का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से भी नवाजा जा चुका है।

Related posts