फ्री WIFI के लालच में आप हो सकते हैं हैकर्स का शिकार, इन बातों का रखें ध्यान

चैतन्य भारत न्यूज

आज के समय में ज्यादातर पब्लिक प्लेस पर फ्री वाईफाई उपलब्ध होता है। कुछ लोगों को यह एहसास भी नहीं होता कि मुफ्त या सार्वजनिक वाईफाई उनके लिए सुरक्षित नहीं है। कई बार मुफ्त वाईफाई के लालच में लोग हैकर्स के भी शिकार हो जाते हैं। इससे उनका डाटा चुरा लिया जाता है और उनकी गोपनीय जानकारी भी गोपनीय नहीं रह जाती। यदि आप भी फ्री वाईफाई का इस्तेमाल करते हैं तो उसके लिए आपको कई बातों का खासतौर से ध्यान रखना होगा।

कई बार फ्री वाईफाई लॉगिन करने के लिए आपसे पासवर्ड पूछा जाता है और आप बेहिचक अपना पासवर्ड डालकर फ्री इंटरनेट से जुड़ जाते हैं लेकिन यह आपके लिए महंगा भी साबित हो सकता है। इसलिए यदि आप पर्याप्त सुरक्षा के बिना सार्वजनिक वाईफाई का उपयोग करते हैं तो आप जोखिम उठा रहे हैं। यदि आप अपने घर के अंदर होते हैं तो इंटरनेट एक्सेस करने पर आमतौर पर कोई समस्या नहीं होती है और वह सुरक्षित है, लेकिन अगर आप एक मुफ्त सार्वजनिक वाईफाई नेटवर्क का उपयोग कर रहे हैं तो इससे आपकी व्यक्तिगत जानकारी सुरक्षित नहीं रहती है।

आपको इस बात की जानकारी नहीं होती है कि किस ने इस वाईफाई को स्थापित किया है या कौन से कनेक्ट कर रहा है अथवा कौन इसकी निगरानी कर यूजर्स की लिस्ट बना रहा है। आज के समय में कॉफी शॉप होटल शॉपिंग मॉल हवाई अड्डे रेलवे स्टेशन समेत अन्य सभी सार्वजनिक स्थानों पर फ्री वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध होती है। यदि आप भी बैठे उठते चलते फिरते फ्री वाईफाई कनेक्शन का इस्तेमाल करते हैं तो सावधान हो जाइए। यह ना सिर्फ डाटा चुरा सकता है बल्कि हमेशा आपके फोन लैपटॉप या टैबलेट को नुकसान भी पहुंचा सकता है।

कई बार शातिर हैकर्स मोबाइल से जुड़कर आपकी ईमेल आईडी, बैंक खाते की गोपनीय जानकारी, पासवर्ड, ट्रांजैक्शन पासवर्ड तक भी पहुंच जाते हैं। फिर वह इंटरनेट से आपकी जासूसी पर आपके लिंक स्थापित करने का प्रयास करेंगे, जिससे आप आसानी से फंस सकते हैं। हैकर्स आपके खाते से राशि भी ट्रांसफर कर सकते हैं। यह एक साइबर क्राइम तो है ही लेकिन उस साइबर अपराधी को पकड़ने की प्रक्रिया थोड़ी जटिल होती है। पुलिस के साइबर सेल में शिकायत करने के बाद अपराधी को पकड़ने में लंबा वक्त लग सकता है। इसलिए आप जब भी किसी सार्वजनिक वाईफाई का इस्तेमाल करें तो थोड़ा सावधान रहकर करें।

ये भी पढ़े…

यदि आप भी हुए हैं ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार, तो ऐसे कीजिए शिकायत

निजी डाटा चोरी करने वालों की अब खैर नहीं, होगी जेल और 15 करोड़ तक जुर्माना, जानें डाटा चोरी से बचने के उपाय

इन 4 एप्स को डाउनलोड करने से बचें, वरना खाली हो सकता है आपका बैंक खाता

आप खुद स्विच ऑन और ऑफ कर सकेंगे अपने डेबिट-क्रेडिट कार्ड, साइबर फ्रॉड पर लगेगी लगाम

Related posts