दुनिया का एक ऐसा देश जहां मेंढक को पार कराई जाती है सड़क, जानिए ऐसा क्यों करते हैं यहां के लोग?

frogs

चैतन्य भारत न्यूज

दुनिया में ऐसे कई देश जिनके अपने अलग-अलग कानून कायदे हैं और कई देशों के कानून बहुत ही अनोखे होते हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं जर्मनी की पूर्व राजधानी रह चुके बॉन शहर के बारे में जहां लोग सड़क पर आएं मेंढक को सड़क पार कराने में मदद करते हैं- आइए जानते हैं ऐसा क्यों किया जाता है?

दरअसल बॉन शहर में जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती है जाती है वैसे ही धरती के अंदर रहने वाले जीव ठंडी जगहें की तलाश में बाहर निकलने की कोशिश करते हैं। ऐसे में नए ठिकाने पर पहुंचने के दौरान कई मेंढक सड़क पर निकल आती है और सड़कों पर तेज चलती गाड़ियों के नीचे दबकर मर जाते हैं। ऐसे में जर्मनी की कई स्वयंसेवी संस्थाओं ने उन्हें बचाने का जिम्मा ले लिया है। इतना ही नहीं बल्कि यह मेंढकों को बचाने के लिए कई तरह के तरीकों को उपयोग में लाया जाता है। जानकारी के मुताबिक, बॉन शहर में मेंढकों को सड़क पार कराने के लिए सड़कों के नीचे सुरंग बना दी जाती है, जहां से ये आराम से कभी भी इस पार से उस पार जा सकते हैं।

मेंढक बचाने का उद्देश्य
मेंढक बचाने का कारण बताया जाता है कि, ये कई जहरीले जीव कीड़े मकोड़े को खा जाती है। साथ ही ये मच्छरों को भी खाते हैं। इन्हीं सब वजहों से मेंढकों को बचाना इतना जरूरी समझा जाता है। इसके अलावा मेंढकों की प्रजाति जिंदा रहना बहुत जरूरी है चूंकि ये पानी में मौजूद एल्गी खाते हैं, जिससे पानी की शुद्धता में इजाफा होता है।

ये भी पढ़े…

मप्र : पहले कराई शादी, अब बारिश से परेशान लोगों ने करवाया मेंढक-मेंढकी का तलाक

मेंढकों को बचाने के लिए 100 छात्र बना रहे हैं नया उपकरण, अब असली जैसे नकली मेंढक पर होगा प्रयोग

अनोखी शादी : तार के सहारे हवा में लटककर निभाई सभी रस्में, तस्वीरें सांसें थाम देंगी!

 

Related posts