‘अगले बरस तू जल्दी आ’ के साथ देशभर में हो रहा बप्पा का विसर्जन, लालबागचा राजा को धूमधाम से किया विदा

ganpati visarjan

चैतन्य भारत न्यूज

10 दिनों तक गणेश उत्सव मनाने के बाद आज बप्पा को विदा करने का दिन आ गया है। देशभर में गणपति बप्पा की विदाई होना शुरू हो गई है। मुंबई में भी ढोल-नगाड़ों के साथ लालबागचा राजा को विदा किया जा रहा है। इस दौरान भक्त ‘गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आ’ गाकर गणपति को खुशी-खुशी विदा कर रहे हैं और अगले साल वापस आने की कामना कर रहे हैं।



आखिर क्यों पानी में ही किया जाता है गणेश जी का विसर्जन? जानिए वजह

मुंबई में पुलिस और बीएमसी द्वारा सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक, गणपति विसर्जन के दौरान गुरुवार को वहां 50 हजार से ज्यादा अधिकारी और अन्य स्टाफ सड़कों पर मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है कि मुंबई में छह हजार से अधिक सार्वजनिक गणपति मंडल और गुरुवार को वहां 1 लाख से ज्यादा गणपति प्रतिमाओं का विसर्जन हो सकता है। ऐसे में सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए एसआरपीएफ, दंगा नियंत्रण बल, क्यूआरटी, बीडीडीएस, मुंबई ट्रैफिक की अतिरिक्त टीमें पूरे शहर में तैनात रहेंगी।

12 सितंबर को है गणपति विसर्जन, जानिए इसके नियम और शुभ मुहूर्त

इसके अलावा भीड़ की संभावना को देखते हुए मेडिकल सेंटर्स और वॉच टॉवर्स बनाए गए हैं। साथ ही भीड़ में लापता हो जाने वाले लोगों और बच्चों के लिए एक विशेष सेंटर बनाया गया है। गणपति विसर्जन स्थलों पर नजर रखी जा सके इसलिए ड्रोंस की भी मदद ली जाएगी। पुलिस ने लोगों से समुद्र में ज्यादा अंदर न जाने की अपील की है। साथ ही उनसे यह भी कहा गया है कि, भीड़ हल्की होने के लिए वे धैर्य से अपनी बारी की प्रतीक्षा करें। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली में गणपति विसर्जन के लिए 129 स्थान निर्धारित किए गए हैं। इनमें 5 सबसे अहम स्थान- गिरगांव, चौपाटी, शिवाजी पार्क, मलाड टी जंक्शन और पवई हैं।

ये भी पढ़े…

VIDEO : गणपति विसर्जन में सलमान खान ने किया देसी डांस, देखकर फैंस भी हुए हैरान

कैसे हुई अनंत चतुर्दशी व्रत की शुरुआत? जानिए व्रत कथा

अनंत चतुर्दशी 2019 : अनंत सूत्र से होता है भगवान विष्णु का पूजन, जानिए इसका महत्व और पूजा-विधि

Related posts