गंगा सप्तमी पर इस उपाय को अपनाकर हासिल करें धन का वरदान

ganga mata

चैतन्य भारत न्यूज

आज यानी 30 अप्रैल को गंगा सप्तमी है। शास्त्रों के अनुसार वैशाख मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को मां गंगा का अवतरण हुआ था और इसलिए इस दिन को गंगा सप्तमी के रूप में मनाया जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, ऋषि भगीरथ की कठोर तपस्या से प्रसन्न होकर मां गंगा धरती पर आईं थीं। आज के दिन गंगा नदी में डुबकी लगाने से भक्तों के सभी पाप और उनके बुरे कर्मों का नाश हो जाता है। गंगा सप्तमी पर दान-पुण्य करने का भी विशेष महत्व होता है। मान्यता है कि आज के दिन सबसे पहले गंगा स्नान कर फिर ध्यान करना चाहिए। इसके बाद दान-पुण्य करना चाहिए। ऐसा करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है।

गंगा सप्तमी पर धन धान्य पाने के लिए करें ये उपाय-

  • कोशिश करें कि गंगा सप्तमी वाले दिन सुबह या शाम घर से नंगे पैर निकलें।
  • गंगा सप्तमी पर स्टील या चांदी के लोटे में गंगाजल भरकर उसमें पांच बेलपत्र डाल लें।
  • इस दिन भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है।
  • सुबह स्नान करने के पश्चात् भगवान शिव पर एक लौटा गंगा जल अर्पित करें और इस दौरान ‘ॐ नमः शिवाय’ मंत्र का भी जाप करें। साथ ही भोलेनाथ को बेलपत्र भी चढ़ाएं।
  • हो सके तो इस दिन किसी गरीब को विशेष मिष्ठान, अनाज या फल दान करें।
  • ये सभी उपाय करने से घर में धन-धान्य की वृद्धि तो होती ही है और साथ ही व्यक्ति को रोजगार के नए अवसर भी मिलते हैं।

ये भी पढ़े…. 

आज है गंगा सप्तमी, जानिए कैसे हुई थी मां गंगा की उत्पत्ति

Related posts