विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार, सीएम शिवराज बोले- जिनको लगता है कि महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धुल जाएंगे

चैतन्य भारत न्यूज

उज्जैन. कानपुर गोलीकांड का आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे आखिरकार गिरफ्तार कर लिया गया है। एनकाउंटर के सातवें दिन विकास को मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किया गया। जानकारी के मुताबिक, विकास दुबे ने खुद ही स्थानीय मीडिया और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद भी विकास पर कोई असर नहीं दिखा और मीडिया के सामने चिल्लाने लगा, ‘मैं विकास दुबे हूं… कानपुर वाला।’

सीएम शिवराज का ट्वीट

मध्यप्रदेश से मोस्ट वांटेड विकास दुबे के गिरफ्तार होने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि- ‘जिनको लगता है कि महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धुल जाएंगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं। हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख़्शने वाली नहीं है।’

एसटीएफ की टीम उज्जैन रवाना हुई

आज सुबह ही विकास दुबे महाकालेश्वर मंदिर पहुंचा और सुबह 9 बजकर 55 मिनट पर उसने मंदिर के सामने अपना नाम चिल्लाया। मौके पर स्थानीय मीडिया को भी बुला लिया गया था। बताया ये भी जा रहा है कि उसने मंदिर के बाहर खड़े होकर अपना नाम चिल्लाया, फिर लोगों ने पुलिस को सूचित किया। इसके बाद वहां मौजूद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया और फ्रीगंज थाने ले गई। इसके बाद यूपी पुलिस को इसकी जानकारी दी गई। उसकी गिरफ्तारी की एक फोटो भी यूपी पुलिस के पास भेजी गई, जिसके बाद पुष्टि हुई की वही विकास दुबे है। सरेंडर की खबर के बाद एसटीएफ की टीम उज्जैन रवाना हो गई है। फिलहाल उज्जैन के फ्रीगंज थाने से उसे किसी गुमनाम स्थान पर ले जाया गया है।

आखिर उज्जैन कैसे पहुंचा विकास दुबे?

बुधवार को फरीदाबाद और एनसीआर में लोकेशन मिलने के बाद आखिर वह उज्जैन कैसे पहुंचा यह बड़ा सवाल है। हालांकि, अब उज्जैन पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। यूपी पुलिस के पहुंचते ही उसकी ट्रांजिट रिमांड की कार्रवाई की जाएगी। जल्द ही उज्जैन पुलिस इसका खुलासा करेगी कि वह यहां कैसे पहुंचा।

ये भी पढ़े…

उज्जैन से गिरफ्तार हुआ गैंगस्टर विकास दुबे, मीडिया को देखकर चिल्लाया- मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला

विकास दुबे का दाहिना हाथ कहे जाने वाले चचेरे भाई अमर दुबे को STF ने मार गिराया, पुलिस ने रखा था 25 हजार का इनाम

कानपुर पुलिस हत्याकांड: 50 घंटे में 5 गुना बढ़ा कातिल विकास दुबे पर इनाम, अब तक नहीं मिला कोई सुराग

कानपुर एनकाउंटर: 8 पुलिसवालों की मौत के जिम्मेदार विकास दुबे के संपर्क में थे 3 पुलिसवाले, सस्पेंड

Related posts