केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले- सनातन धर्म की रक्षा के लिए शपथ लो, केक काटकर नहीं मनाओगे अपना जन्मदिन

giriraj singh

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने जन्मदिन पर केक काटने और मोमबत्ती जलाने को लेकर कहा कि, सनातन धर्म के मूल्यों की रक्षा करने के लिए हिंदुओं को अपने बच्चों के जन्मदिन पर केक काटने और मोमबत्ती जलाने से परहेज करना चाहिए। साथ ही उन्होंने बच्चों को गीता पाठ, रामायण और हनुमान चालीसा पढ़ाने की भी बात कही।

केक काटने के बजाए भगवान शंकर-काली की पूजा करें 

रविवार को राजधानी दिल्ली के कालकाजी मंदिर परिसर में सनातन हिंदू वाहिनी द्वारा कार्यकर्ता सम्मेलन व श्रीराम महोत्सव का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में गिरिराज सिंह बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, ‘सनातन धर्म एवं इसके मूल्यों की रक्षा के लिए देवी काली के नाम की आप सभी शपथ लीजिए कि अपने बच्चों को रामायण की चौपाई, गीता के श्लोक एवं हनुमान चालीसा पढ़ाएंगे।’ उन्होंने आगे कहा कि, ‘हम सभी को सनातन धर्म की रक्षा के लिए आगे आना होगा। जो लोग जन्मदिन मनाते हैं, वो केक काटने और मोमबत्ती जलाने के बजाय मंदिर जाएं तथा भगवान शंकर और काली की पूजा करें। लोगों में मिठाई बांटे और पकवान बनाएं। अगर जलाना ही है तो मोमबत्ती की जगह मिट्टी के दीये जलाएं।’ गिरिराज सिंह ने यह भी कहा कि, ‘बच्चे मिशनरी स्कूल में जाकर ईसाई तौर-तरीके सीख रहे हैं, जो सनातन से अलग हैं।’

कौन हैं गिरिराज सिंह

बीजेपी के फायर ब्रांड नेता कहे जाने वाले गिरिराज सिंह की गिनती पीएम मोदी और अमित शाह के करीबी के तौर पर होती है। गिरिराज सिंह ने लोकसभा चुनाव 2019 में बेगुसराय से चुनाव जीता था। वह पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग के मंत्री हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ‘देहाती औरत’ कह चुके बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह अपने बयानों के कारण हमेशा सुर्खियों में रहते हैं। वह अक्सर ही कुछ न कुछ ऐसा बोल देते हैं जिसके बाद विवाद खड़ा हो जाता है। साथ ही पार्टी की भी फजीहत होती है।

 

Related posts