त्योहार आते ही आसमान छूने लगी सोने-चांदी की कीमतें, ये है कारण

gold,silver

चैतन्य भारत न्यूज

विदेशों में सोने की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है। सोने-चांदी के भाव आसमान पर पहुंच गए हैं। हर दिन सोना-चांदी के भाव में एक नया रिकॉर्ड कायम हो रहा है। शनिवार को चांदी 43 हजार रुपए प्रति किलो और सोना 39 हजार रुपए प्रति 10 ग्राम के करीब पहुंच गया।

और बढ़ सकते हैं दाम

शनिवार को चांदी के भाव में तो ज्यादा उछाल नहीं रहा, लेकिन सोने में 1150 रुपए प्रति 10 ग्राम की तेजी देखने को मिली। भाव में उछाल के बाद सराफा में खरीददार कम और बेचने वाले ज्यादा पहुंच रहे हैं। जानकारों के मुताबिक, आगामी दिनों में सोना 40 हजार और चांदी 45 हजार पास पहुंच सकते हैं। पिछले दो-तीन महीनों से सोने के दाम जिस रफ्तार में बढ़ रहे हैं, वैसी रफ्तार पहले कभी देखने को नहीं मिली थी। सूत्रों के मुताबिक, विदेश में सोने की कीमत 3.18 फीसदी बढ़ी तो वहीं स्थानीय बाजार में यह 6.22 फीसदी बढ़ गई है। पिछले सप्ताह लंदन एवं न्यूयॉर्क में सोना 45.85 डॉलर चढ़कर 1,496.50 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। तीन साल में यह सबसे बड़ी साप्ताहिक तेजी है। बाजार विश्लेषकों के मुताबिक, अमेरिका और चीन के बीच जारी व्यापार युद्ध के और गहराने के चलते सोने के दाम में तेजी आई है। वहीं चांदी की बात करें तो ये अंतरराष्ट्रीय बाजार में 0.64 डॉलर यानी 3.95 फीसदी की साप्ताहिक तेजी के साथ 16.93 डॉलर प्रति औंस पर रही।

क्यों बढ़ रहे हैं दाम?

हर बार सावन के महीने में बिक्री के बढ़ने के कारण सोने की कीमत भी बढ़ जाती है। लेकिन मौजूदा स्थिति में इसके दाम बढ़ने के और भी कई कारण हैं। सोने के दाम घरेलू आर्थिक वजहों के अलावा अंतरराष्ट्रीय कारणों से भी बढ़ते हैं। इसके अलावा मोदी सरकार द्वारा पेश किए गए पूर्ण बजट में भी सोने पर आयात शुल्क को बढ़ाकर 10 प्रतिशत से 12.5 प्रतिशत कर दिया गया है।

Related posts