गूगल बनाने वालों ने छोड़ा CEO का पद, सुंदर पिचाई बने गूगल की पेरेंट कंपनी ‘Alphabet’ के नए CEO

sundar pichai,google ceo sundar pichai

चैतन्य भारत न्यूज

वाशिंगटन. भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को गूगल ने मंगलवार को अपनी मूल कंपनी अल्फाबेट का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया है। इस बात की घोषणा गूगल के सह-संस्थापक लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने की है। बता दें कि अभी तक यह जिम्मेदारी गूगल के सह संस्थापक सर्गेई ब्रिन के पास थी। लेकिन गूगल को बनाने वाले लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने परिवार को समय देने का हवाला देकर अपना पद छोड़ दिया है और इसी के साथ उनकी जिम्मेदारी सुंदर पिचाई के हाथों में आ गई है।



पिचाई ने अपने बयान में स्पष्ट किया कि इस बदलाव से अल्फाबेट की संरचना या उसके काम पर कोई असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने लिखा कि, ‘मैं गूगल पर अपना ध्यान केंद्रित करता रहूंगा और साथ ही कम्प्यूटिंग के दायरे को बढ़ाने और गूगल को हर किसी के लिए अधिक मददगार बनाने के अपने काम को करता रहूंगा। मैं अल्फाबेट और टेक्नॉलजी के जरिए बड़ी चुनौतियों से निपटने के उसके दीर्घकालिक उद्देश्य को लेकर उत्साहित हूं।’

जानकारी के मुताबिक, अल्फाबेट की जिम्मेदारी से मुक्त होने के बाद भी लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन कंपनी के बोर्ड में रहेंगे। बता दें गूगल आज दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में शामिल है। साल 1998 में सिलिकॉन वैली (केलिफोर्निया) से इसने अपना सफर शुरू किया था।

कौन है सुंदर पिचाई

पिचाई का जन्म तमिलनाडु के मदुरै में 12 जुलाई 1972 को हुआ था। उनका पूरा नाम सुंदरराजन पिचाई है। उन्होंने आईआईटी खड़गपुर से बीटेक और स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से एम एस करने के बाद अमेरिका की पेन्सिलवेनिया यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई पूरी की थी। पिचाई 2004 से गूगल में हैं और उन्हें 2015 में गूगल का सीईओ बनाया गया था।

ये भी पढ़े…

जन्मदिन विशेष : इस शख्स के कारण हुआ सिनेमा का जन्म, गूगल ने खास अंदाज में याद कर बनाया डूडल

गूगल और एपल ने भारत में ब्लॉक किया TikTok ऐप, जानिए इससे जुड़ी पांच बातें

इंस्टाग्राम, गूगल और एप्पल पर बेच रहे थे लड़कियां और महिलाएं, खुलासा होते ही सरकार ने की कार्रवाई

Related posts