उद्धव ठाकरे बनेंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री! पार्टी ने कहा आदित्य नहीं योग्य उम्मीदवार, NCP-कांग्रेस के हिस्से में डिप्‍टी CM का पद!

aditya

चैतन्य भारत न्यूज

मुंबई. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद से ही राज्य में सियासी घमासान का दौर जारी था। लेकिन अब जाकर कुछ स्थिति साफ होती नजर आ रही है। सूत्रों के मुताबिक, तीन पार्टियों के गठबंधन को लेकर बातचीत साफ हो गई है और नई सरकार दिसंबर की शुरुआत तक अपना काम संभाल लेगी।



सोमवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की और फिर मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि, सरकार बनाने को लेकर उनकी कोई बातचीत नहीं हुई है। बताया जा रहा है कि राज्य में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री होंगे और एनसीपी-कांग्रेस के पास दो डिप्टी सीएम के पद रहेंगे। करीबी सूत्रों ने यह भी बताया कि, उद्धव ही पूरे पांच साल के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहेंगे और इस दौरान कोई भी रोटेशनल पॉलिसी नहीं होगी।

पवार ने बनाया फॉर्मूला

जानकारी के मुताबिक, राज्य में शिवसेना ने 56 सीटें जीती हैं, एनसीपी ने 54 और कांग्रेस ने 44 सीटें जीती हैं। इस हिसाब से 42 मंत्रीपद भी 15, 14 और 13 के अनुपात से तय करने की संभावना है। जबकि शिवसेना ने स्पीकर के पद के लिए निर्णय कांग्रेस और एनसीपी पर छोड़ दिया है। इस पद के लिए पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण का नाम सामने आ रहा है। कहा जा रहा है कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने का पूरा स्ट्रक्चर एनसीपी चीफ शरद पवार ने ही डिजाइन किया हुआ है। शरद पवार ने सिर्फ इतना कहा कि, सोनिया गांधी के साथ उन्होंने केवल महाराष्ट्र की राजनीतिक परिस्थिति को लेकर बातचीत की है और वह स्थिति को देखकर उसके हिसाब से आगे की कार्रवाई करेंगे।

आदित्य नहीं मुख्यमंत्री बनने योग्य

सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री बनाने को लेकर तीनो पार्टियों के बीच बैठक हुई थी। इस बैठक में आदित्य ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने की बात पर वरिष्ठ नेताओं के बीच सहमति नहीं बनी है। उनका कहना है कि आदित्य अभी मुख्यमंत्री बनने योग्य नहीं हैं। इसलिए उद्धव को ही मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। इसके पीछे एक और कारण यह भी बताया गया है कि आदित्य अभी काफी युवा हैं और छगन भुजबल और अजीत पवार जैसे वरिष्ठ नेताओं के साथ उनका तालमेल मुश्किल हो सकता है।

ये भी पढ़े…

शिवसेना का बीजेपी पर कटाक्ष- 105 वालों की मानसिकता ठीक नहीं, हम महाराष्ट्र के मालिक हैं और देश के बाप हैं

महाराष्ट्र में साफ हुआ सरकार बनाने का रास्ता! 

महाराष्ट्र में लागू हुआ राष्ट्रपति शासन, रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

Related posts