साइबर फ्रॉड की शिकायत के लिए सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर, जानिए पूरी प्रोसेस

cyber attack

चैतन्य भारत न्यूज

देश में ऑनलाइन अपराध के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इस नंबर पर साइबर क्राइम को रिपोर्ट किया जा सकेगा। जिन भी लोगों को साइबर फ्रॉड की वजह से नुकसान हो रहा है उनके लिए ये हेल्पलाइन फायदेमंद साबित हो सकती है।

यदि किसी ने धोखा करके आपके अकाउंट से पैसे उड़ा लिए हैं तो ये आपकी मदद करेगा। आइए विस्तार से बताते हैं कि ये हेल्पलाइन काम कैसे करेगा और आपको क्या करना होगा। होम मिनिस्ट्री की तरफ से जारी इस हेल्पलाइन नंबर 155260 पर कॉल करके शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। साइबर क्राइम फ्रॉड होने की स्थिति में यहां कॉल कर सकते हैं। आपको बता दें कि इसे 1 अप्रैल 2021 को ही सॉफ्ट लॉन्च किया गया था, लेकिन अब ये ऑपरेशनल है।

सरकार के मुताबितक, 155260 हेल्पलाइन नंबर इंडियन क्राइम कॉर्डिनेशन सेंटर ने ऑपरेशनल किया है। इसके लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया सहित दूसरे बड़े बैंक्स, वॉलेट, ऑनलाइन मर्चेंट्स और पेमेंट बैंक की भी हिस्सेदारी सुनिश्चित कराई गई है। दी सिटिजन फिनांशियल साइबर फ्रॉड रिपोर्टिंग एंड मैनेजमेंट सिस्टम को साइबर क्राइम कॉर्डिनेशन सेंटर यानी 14C ने तैयार किया है। इसके तहत फिलहाल सात राज्य होंगे जिनमें दिल्ली, मध्य प्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ शामिल हैं। यानी यहां रहने वाले लोग साइबर फ्रॉड होने पर शिकायत कर सकेंगे। आने वाले समय में इसे पूरे देश के लिए तैयार कर दिया जाएगा।

आपके साथ साइबर फ्रॉड हो जाए तो ऐसे में क्या किया जा सकता है? आप 155260 पर कॉल कर सकते हैं। यहां स्टेट पुलिस के लोग होते हैं। पुलिस आपकी डीटेल्स नोट करेगी और बेसिक पर्सनल डीटेल्स मांगी जाएगी। इसके बाद टिकट जेनेरेट होगा और इसे ऑपरेटर दी सिटिजन फिनांशियल साइबर फ्रॉड रिपोर्टिंग एंड मैनेजमेंट सिस्टम में दर्ज कर देगा।

Related posts