गुरु नानक जयंती पर आसमान में दिखा अद्भुत नजारा, बनाया गया ‘इक ओंकार’

guru nanak jayanti,ek onkar ,sultanpur lodhi

चैतन्य भारत न्यूज

लुधियाना. सिख धर्म के संस्थापक और सिखों के पहले धर्मगुरु गुरु नानक देवजी की 550वीं जयंती के मौके पर सुल्तानपुर लोधी में मंगलवार रात अद्भुत नजारा देखने को मिला। यहां आसमान में दर्जनों ड्रोन के जरिए इक ओंकार की आकृति बनाई गई। बता दें इक ओंकार सिख धर्म का बेहद पवित्र शब्द है। यह शब्द सिख धर्म के मूल दर्शन का प्रतीक है, जो कहता है कि ‘परम शक्ति एक ही है’।



इस शानदार नजारे को दिखाने के लिए दर्जनों ड्रोन का इस्तेमाल किया गया था। ड्रोन को आसमान में कुछ इस तरह से उड़ाया गया कि वह इक ओंकार जैसा दिखाई दे रहा था। इस मौके पर यहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी पहुंचे।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘आज के दिन सुल्तानपुर लोधी में होना बड़े सौभाग्य की बात है। यही वह भूमि है जहां श्री गुरु नानक देव जी को ज्ञान प्राप्त हुआ। इस क्षेत्र में गुरु नानक देव जी की आध्यात्मिक यात्रा से जुड़े पवित्र स्थान मौजूद हैं।’ बता दे हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी यहां के ऐतिहासिक सिख तीर्थस्थल पहुंचकर दर्शन किए।

कहा जाता है कि, गुरु नानक देव ने सुल्तानपुर लोधी में 14 साल बिताए थे और आत्मज्ञान प्राप्त किया था। ऐसा माना जाता है कि गुरु नानक देव ‘काली बेईं’ में स्नान करते थे और फिर एक ‘बेर’ वृक्ष के नीचे ध्यान लगाते थे।

यह भी पढ़े…

जयंती : गुरु नानक देव ने रखी थी करतारपुर साहिब की नींव, जानिए उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें और मूल मंत्र

करतारपुर साहिब गुरुद्वारे का क्‍या है इतिहास? जानें बंटवारे से लेकर अब तक की कहानी

Related posts