जन्मदिन विशेष : देवानंद को इस स्टाइल में देखकर लड़कियां कर लेती थीं सुसाइड! कोर्ट को लगानी पड़ी थी रोक

devanand

चैतन्य भारत न्यूज

हिंदी सिनेमा के सदाबहार अभिनेता देवानंद साहब की आज 95वीं जन्मतिथि है। 26 सितंबर 1923 को जन्में देवानंद का पूरा नाम देवानंद उर्फ धरमदेव पिशोरीमल आनंद था। उन्हें बचपन से ही एक्टिंग करने का शौक था। वह अपने दौर के फैशन आइकॉन थे। उनके लुक्स से लेकर हेयरकट तक हर चीज का जलवा था। इस खास मौके पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं देवानंद की जिंदगी से जुड़े कुछ अनसुने किस्से जिन्हें बहुत ही कम लोग जानते हैं।



happy birthday dev anand, dev anand birthday special ,dev anand black suit controversy,dev anand birthday

देवानंद को बी टाउन का सबसे हैंडसम अभिनेता माना जाता है। उनकी अदायगी और स्मार्टनेस की लाखों लड़कियां दीवानी थीं। दर्शक खासकर लड़कियां उनकी एक झलक पाने के लिए बेरकरार रहती थीं। वैसे तो उन्हें लेकर कई किस्से हैं लेकिन काले कोट को लेकर वह बहुत सुर्खियों में रहे हैं।

happy birthday dev anand, dev anand birthday special ,dev anand black suit controversy,dev anand birthday

दरअसल देवानंद जब कभी काला कोट पहनते थे तो अलग ही कहर ढाते थे। उन्हें देखकर उन दिनों सफेद शर्ट पर काला कोट पहनने का स्टाइल बहुत ट्रेंड हुआ था, लेकिन इसके बाद कुछ ऐसा हुआ कि देवानंद को सार्वजनिक जगहों पर काला कोट पहनने पर बैन लगा दिया गया था। कहा जाता है कि लड़कियां देवानंद को काले कोट में देखकर इस तरह पागल हो जाती थीं कि उनके लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहती थीं।

happy birthday dev anand, dev anand birthday special ,dev anand black suit controversy,dev anand birthday

इतना ही नहीं बल्कि ये भी कहा जाता है कि कुछ लड़कियों ने देवानंद की इस स्टाइल पर फिदा होकर सुसाइड तक कर लिया था। ऐसा शायद ही कोई अभिनेता हो जिसके लिए इस हद तक दीवानगी देखी गई हो। जब देवानंद की दीवानगी को लेकर ऐसे मामले बढ़ते गए तो कोर्ट ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए उन्हें काले कोट पहनने पर बैन लगा दिया था।

happy birthday dev anand, dev anand birthday special ,dev anand black suit controversy,dev anand birthday

वहीं अगर देवानंद की निजी जिंदगी की बात करें, तो वो भी काफी संघर्ष भरी रही। उनका जन्म पंजाब के गुरदासपुर के एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। सरकारी कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई करने वाले देव साहब आगे पढ़ना चाहते थे, लेकिन उनके माता-पिता के पास पढ़ाने के लिए पैसे नहीं थे। घर की मजबूरियों के चलते वो पैसा कमाने मुंबई आए और किस्मत ने उन्हें बॉलीवुड का सुपरस्टार बना दिया। बता दें देवानंद साहब का निधन 3 दिसंबर 2011 को लंदन में हुआ था।

 

Related posts