जन्मदिन विशेष: संघर्ष कर बनाई अपनी खास पहचान, ऐश्वर्या की आवाज बन श्रेया ने जीता सभी का दिल

shreya ghoshal

चैतन्य भारत न्यूज

‘सुरों की मल्लिका’ कही जाने वाली श्रेया घोषाल का आज 37वां जन्मदिन है। 12 मार्च 1984 को पश्चिम बंगाल के ब्रह्मपुर (मुर्शीदाबाद) में जन्मीं श्रेया ने महज 4 साल की उम्र में सिंगिंग शुरू कर दी थी। जन्मदिन के इस खास अवसर पर जानते हैं श्रेया से जुड़ी कुछ खास बातें-



  • श्रेया कई परेशानियों के बावजूद अपना नाम कमाने में कामयाब हो गईं।
  • श्रेया का लालन-पोषण राजस्थान के रावतभाटा में हुआ। उनके पिता भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र में नाभिकीय ऊर्जा संयंत्र इंजीनियर के रूप में काम करते हैं, जबकि मां साहित्य की स्नातकोत्तर हैं और घर संभालती हैं।

  • उन्हें सिंगिंग की प्रारंभिक शिक्षा अपनी मां से मिली। उन्होंने चार साल की उम्र में गायिकी शुरू कर दी थी।
  • मां से संगीत की प्राथमिक शिक्षा लेने के बाद श्रेया को उनके माता-पिता ने महेशचंद्र शर्मा के पास कोटा भेज दिया। फिर श्रेया ने महेश चंद्र शर्मा के निर्देशन में हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत की विधिवत शिक्षा शुरू की।
  • श्रेया की मेहनत और महेश चंद्र शर्मा की शिक्षा ने अपना रंग दिखाया और फिर श्रेया ने संगीत कार्यक्रम ‘सा रे गा मा’ के मंच पर अपनी आवाज का जादू बिखेर दिया।

  • श्रेया की जिंदगी में उस समय मोड़ आया जब उन्होंने ‘सा रे गा मा’ में दूसरी बार हिस्सा लिया। उनकी परफॉरमेंस पर निर्देशक संजय लीला भंसाली का ध्यान गया। फिर भंसाली ने साल 2000 में अपनी फिल्म ‘देवदास’ में गाना गाने का प्रस्ताव रख दिया। इस फिल्म में श्रेया ने इस्माइल दरबार के संगीत निर्देशन में पांच गाने गाए।
  • श्रेया ने अपनी मधुर आवाज के जरिए बेहद कम समय में खास पहचान बना ली और वो बॉलीवुड में अलका याज्ञिक, सुनिधि चौहान, साधना सरगम और कविता कृष्णमूर्ति जैसे टॉप के सिंगर्स की लिस्ट में शुमार हो गईं।
  • देवदास के ‘बैरी पिया’ गीत के लिए श्रेया को उस साल का सर्वश्रेष्ठ गायिका का फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिला था। साथ ही उभरती प्रतिभाओं के लिए दिया जानेवाला आरडी बर्मन पुरस्कार भी उन्हें उसी पुरस्कार समारोह में दिया गया।

  • श्रेया लता मंगेशकर को अपना आदर्श मानती हैं। वह हिंदी के अलावा तमिल, तेलुगु, मलयालम, बंगाली, कन्नड़, गुजराती, मेइती, मराठी और भोजपुरी समेत कई क्षेत्रीय भाषाओं में भी गाने गा चुकी हैं।
  • वहीं उनकी पर्सनल लाइफ की बात करें तो श्रेया ने साल 2015 में शिलादित्य मुखोपाध्याय से बंगाली रीति-रिवाज के अनुसार शादी की थी। वे शादी से पहले करीब 10 साल तक रिलेशन में थे।

Related posts