शादीशुदा अभिनेता के प्यार में पागल थीं स्मिता पाटिल, बेटे के जन्म के 15 दिन बाद हो गई थीं मौत

smita patil

चैतन्य भारत न्यूज

हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री स्मिता पाटिल का आज 13 दिसंबर को जन्मदिन हैं। स्मिता एक ऐसी अदाकारा थी जिसके साथ काम करने के लिए कलाकारों की होड़ लगी रहती थी। स्मिता जितनी अपनी फिल्मों के लिए मशहूर थीं उतनी ही वह अभिनेता राज बब्बर के साथ प्रेम कहानी को लेकर भी चर्चा में रही थीं। आइए जानते हैं इन दोनों की प्रेम कहानी के बारे में…।

स्मिता ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1952 में फिल्म ‘घुंघरू’ से की थी। इस समय अभिनेता राज बब्बर लगभग अपनी पहचान कायम कर चुके थे। यही नहीं बल्कि इस दौरान राज बब्बर वह चमकता सितारा थे जिसकी एक झलक पाने के लिए लड़कियां दीवानी थीं। लेकिन राज बब्बर स्मिता पाटिल के प्यार में दीवाने थे। राज बब्बर पहले से ही शादीशुदा थे बावजूद इसके उन्होंने स्मिता का साथ नहीं छोड़ा।

रिपोर्ट की माने तो स्मिता और राज बब्बर फिल्म फिल्म ‘भीगी पलकें’ के दौरान एक दूसरे के प्यार में पड़ गए थे। कहा ये भी जाता है कि, 80 के दशक में ही यह दोनों लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने लगे थे। इतना ही नहीं बल्कि राज ने अपनी पहली पत्नी नादिरा को छोड़ स्मिता से शादी तक रचा ली थी। लेकिन बेटे के जन्म के बाद ही स्मिता का निधन हो गया। बता दें, प्रतीक बब्बर ,जूही और आर्य राज बब्बर के बच्चे हैं। जूही और आर्य नादिरा से है तो वहीं प्रतीक स्मिता और राज के बेटे हैं।

कहा जाता है कि, स्मिता के निधन के बाद राज बब्बर फिर से अपनी पहली पत्नी नादिरा के पास वापस लौट गए थे। इस वजह से स्मिता पाटिल के बेटे प्रतीक बब्बर और राज बब्बर के बीच काफी विवाद रहने लगे थे। बता दें, स्मिता ने अपने करियर में ‘नमक हलाल’, ‘आखिर क्यों’ और ‘नजराना’ जैसी बड़ी फिल्मो में काम किया है। उन्हें अपने काम के लिए ‘पद्मश्री पुरस्कार’ से सम्मानित भी किया जा चुका है।

Related posts