हाथरस कांड: पुलिस पर एक्शन से नाराज IPS एसोसिएशन, कहा- DM पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई?

चैतन्य भारत न्यूज

हाथरस. उत्तर प्रदेश के हाथरस मामले में पीड़ित परिवार द्वारा प्रशासन पर लगाए गए आरोपों के बाद योगी सरकार ने कई पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई की थी, जिसे लेकर अब IPS एसोसिएशन नाराज है। सूत्रों के मुताबिक, IPS एसोसिएशन का मानना है कि पुलिसकर्मियों पर एकतरफा कार्रवाई की गई जबकि इस मामले की जिम्मेदारी पूरे प्रशासन पर तय होनी चाहिए थी।

एसोसिएशन का कहना है कि, जब एसपी पर कार्रवाई हो सकती है तो डीएम पर क्यों नहीं? अगर कोई लापरवाही हुई है तो अकेले पुलिस महकमा कैसे जिम्मेदार है? एसोसिएशन का मानना है कि आदेश प्रशासनिक होते हैं और पुलिस महकमा उन आदेशों को लागू करवाता है। कार्रवाई सिर्फ पुलिस पर हुई जबकि किसी भी मामले में सभी फैसले जिला प्रशासन करता है, पुलिस महकमा अकेले नहीं करता।

बता दें हाथरस मामले में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को कड़ा रुख अपनाते हुए पुलिस अधीक्षक, तत्‍कालीन क्षेत्राधिकारी और प्रभारी निरीक्षक समेत कई जिम्‍मेदार अधिकारियों को ससपेंड करने का आदेश दिया था जिसके बाद इन अधिकारियों को ससपेंड कर दिया गया था। अपर मुख्‍य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्‍थी ने शुक्रवार को इस फैसले की जानकारी दी। इसके अलावा आदेश दिया गया था कि सभी का नारको पॉलीग्राफ टेस्ट भी कराया जाएगा। इसमें पीड़िता का परिवार भी शामिल है। हालांकि पीड़िता के परिवार ने नार्को टेस्ट का विरोध किया है।

सवालों के घेरे में डीएम

हाथरस मामले में जिलाधिकारी प्रवीण कुमार भी सवालों के घेरे में हैं। डीएम पर पीड़िता के परिवार ने धमकाने और दबाव डालने का आरोप लगाया है। पीड़िता के भाई ने कहा था कि, ‘हमने कौन सा जुर्म किया है जो हमारे साथ इतनी ज्यादा बदतमीजी हो रही है। इतनी ज्यादा बदसलूकी हमारे साथ क्यों हो रही है?’ उन्होंने डीएम को हटाए जाने की भी मांग की है।

ये भी पढ़े…

हाथरस कांडः सीएम योगी ने दिए सीबीआई जांच के आदेश, ट्वीट कर दी जानकारी

हाथरस: पीड़िता के परिवार से मिले राहुल-प्रियंका, की आर्थिक मदद, कहा- अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे

हाथरस कांड में योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, SP-DSP और इंस्पेक्टर को किया सस्पेंड

Related posts