आज फिर हाथरस जाएंगे राहुल गांधी, कहा- दुनिया की कोई भी ताकत मुझे नहीं रोक सकती

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. हाथरस सामूहिक दुष्कर्म की घटना को लेकर देशभर के लोगों में आक्रोश है। कांग्रेस भी इस मामले को लेकर आक्रामक है। पार्टी के के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी दो दिन पहले ही पीड़िता के परिजनों से मिलने हाथरस के लिए निकले थे। लेकिन पुलिस ने उन दोनों को ग्रेटर नोएडा के परी चौक में ही रोक लिया था और फिर उन्हें वापस दिल्ली भेज दिया था। लेकिन आज फिर राहुल गांधी हाथरस के लिए रवाना होंगे।

शनिवार को राहुल गांधी ने हाथरस जाने का ऐलान करते हुए कहा है कि, ‘दुनिया की कोई भी ताक़त मुझे हाथरस के इस दुखी परिवार से मिलकर उनका दर्द बांटने से नहीं रोक सकती।’ राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि, ‘इस प्यारी बच्ची और उसके परिवार के साथ यूपी सरकार और उसकी पुलिस की ओर से किया जा रहा व्यवहार मुझे स्वीकार नहीं। किसी भी हिंदुस्तानी को ये स्वीकार नहीं करना चाहिए।’

जानकारी के मुताबिक, राहुल दोपहर में हाथरस के लिए रवाना होंगे। उनके साथ कांग्रेस सांसदों का एक दल भी जाएगा। राहुल गांधी के नेतृत्व में यह प्रतिनिधिमंडल पीड़िता के परिजनों से मुलाकात कर उनका दर्द साझा करेगा। कांग्रेस ने पीड़ित परिवार को न्याय से वंचित रखने का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार पीड़िता के परिजनों को भारी पुलिस बल की तैनाती कर उन्हें हताश करने की कोशिश कर रही है।

यह है मामला

बता दें कि 14 सितंबर को हाथरस की एक बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। आरोप है कि दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने युवती की जीभ काट दी थी और रीढ़ की हड्डी तोड़ दी थी। पीड़िका की हालत खराब होने के बाद इलाज के लिए उन्हें दिल्ली ले जाया गया था। मंगलवार की सुबह उन्होंने सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। प्रदेश की पुलिस ने एक नोटिस जारी कर पीड़िता की हड्डी टूटने और जीभ कटने की बात को गलत बताया था। जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी हड्डी टूटने और जीभ कटने की बात लिखी हुई है। प्रदेश की पुलिस पर मामले में लीपापोती का आरोप लगा है। हाथरस केस को लेकर विपक्षी पार्टियों ने यूपी में कानून व्यवस्था को लेकर सीएम योगी पर निशाना साधते हुए हमले किए हैं।

सीएम योगी ने की बड़ी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए शुक्रवार को एसपी, डीएसपी व इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया है। अब थाने के सभी पुलिसकर्मियों का नारको पॉलीग्राफ टेस्ट कराया जाएगा। इनमें एसपी और डीएसपी भी शामिल हैं। साथ ही योगी आदित्यनाथ ने एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने लिखा था कि, ‘उत्तर प्रदेश में माताओं-बहनों के सम्मान-स्वाभिमान को क्षति पहुंचाने का विचार मात्र रखने वालों का समूल नाश सुनिश्चित है। इन्हें ऐसा दंड मिलेगा जो भविष्य में उदाहरण प्रस्तुत करेगा। आपकी यूपी सरकार प्रत्येक माता-बहन की सुरक्षा व विकास हेतु संकल्पबद्ध है। यह हमारा संकल्प है-वचन है।’

ये भी पढ़े…

हाथरस कांड में योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, SP-DSP और इंस्पेक्टर को किया सस्पेंड

हाथरस केस सीएम योगी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- ऐसी सजा मिलेगी जो उदाहरण प्रस्तुत करेगी, DM और SP पर भी गिर सकती है गाज

हाथरस जाने की जिद पर अड़े राहुल-प्रियंका को पुलिस ने हिरासत में लिया, राहुल बोले- पुलिस ने मुझे धक्का दिया, लाठी मारी

निर्भया को इंसाफ दिलाने वाली वकील सीमा अब हाथरस की बेटी को दिलाएंगी इंसाफ, मुफ्त में लड़ेंगी केस

यूपी की एक और बेटी के साथ हुई हाथरस जैसी हैवानियत, मरने से पहले पीड़िता बोली- मां बहुत दर्द है, अब बचूंगी नहीं 

Related posts