हाथरस सामूहिक दुष्कर्म मामला: सीबीआई ने हत्या और सामूहिक दुष्कर्म की धाराओं में दर्ज किया केस, जांच के लिए बनाई टीम

चैतन्य भारत न्यूज

उत्तरप्रदेश के हाथरस में दलित युवती से सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या मामले की जांच अब केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) करेगी। सीबीआई ने इस मामले में केस दर्ज किया है। सीबीआई ने चारों आरोपियों के खिलाफ हत्या और सामूहिक दुष्कर्म की धाराओं में केस दर्ज किया है। साथ ही सीबीआई ने इस मामले में अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, सीबीआई ने उत्तर प्रदेश सरकार के अनुरोध पर मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने इस सिलसिले में एक टीम गठित की है। अभी तक इस मामले की जांच यूपी पुलिस की एसआईटी कर रही थी, जिसने जांच के लिए अभी 10 दिन का वक्त और मांगा था। अधिकारियों ने बताया कि सामूहिक दुष्कर्म के मामले की जांच के अलावा यूपी सरकार ने सीबीआई से इस मामले में जातीय दंगे, हिंसा भड़काने और मीडिया व राजनीति के कुछ धडे़ की ओर से दुष्प्रचार की आपराधिक साजिश की जांच की भी मांग की है।

जारी बयान के मुताबिक सीबीआई ने आज हाथरस मामले में एक आरोपी खिलाफ केस दर्ज कर अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी। इससे पहले पीड़िता के भाई ने हाथरस के चंदपा थाने में केस दर्ज कराया था। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि 14 सितंबर 2020 को आरोपी ने उसकी बहन को बाजरे के खेत में गला घोंटकर मारने की कोशिश की थी।

गौरतलब है कि हाथरस घटना को करीब 27 दिन हो चुके हैं। पहले हाथरस पुलिस, फिर एसआईटी और अब सीबीआई ने इस केस की जांच शुरू की है। 14 सितंबर का सच जानने के लिए एसआईटी ने जब जांच शुरू की तो उसके निशाने पर गांव के 40 लोग थे। गांव के इन 40 लोगों से पूछताछ हो चुकी है। ये 40 लोग वे हैं, जो 14 सितंबर को आसपास के खेतों में काम कर रहे थे। इनमें आरोपी और पीड़िता के घर वाले भी शामिल हैं।

ये भी पढ़े…

हाथरस कांड: आरोपी संदीप ने एसपी को लिखी चिट्ठी, कहा- लड़की से थी दोस्ती, उसे उसकी मां और भाई ने ही पीटा इसलिए मौत हो गई

हाथरस मामला : मीडिया कवरेज के बहाने जातीय दंगा भड़काना चाहते थे, मॉरीशस से की थी 100 करोड़ की फंडिंग, चार संदिग्ध गिरफ्तार

निर्भया के बलात्कारियों का केस लड़ने वाले वकील एपी सिंह लड़ेंगे हाथरस के आरोपियों का केस

Related posts