निर्भया को इंसाफ दिलाने वाली वकील सीमा अब हाथरस की बेटी को दिलाएंगी इंसाफ, मुफ्त में लड़ेंगी केस

चैतन्य भारत न्यूज

हाथरस गैंगरेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए देशभर में आवाज़ें उठ रही हैं। देश की इस बेटी को न्याय दिलाने के लिए और दुष्कर्म करने वाले दरिंदों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए देशभर में विरोध हो रहा है। हाथरस की इस बेटी को न्याय दिलाने के लिए निर्भया का केस लड़ने वाली वकील सीमा संवृद्धि आगे आईं हैं।

जानकारी के मुताबिक, हाथरस की पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए सीमा ने उसका केस मुफ्त में लड़ने का फैसला किया है। हाथरस में वो पीड़ित परिवार से मिलने और बात करने जा रही है। सीमा की पीड़ित परिवार से फोन पर बात हुई है। साथ ही इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका भी दायर की गई है। इस याचिका में पीड़िता के केस की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) या एसआईटी से कराने की मांग की गई है। याचिका में जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के वर्तमान या रिटायर्ड न्यायाधीश से कराने की मांग भी की गई है।

याचिका में कहा गया है कि, जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के वर्तमान या रिटायर्ड जज से कराई जानी चाहिए। इसके अलावा जनहित याचिका में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश में मामले की जांच और ट्रायल निष्पक्ष नहीं हो पाएगा, इसलिए इस मामले को दिल्ली स्थानांतरित किया जाना चाहिए। पीड़िता के साथ पहले दुष्कर्म किया गया और फिर बेरहमी से मारपीट की गई और एक मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार, उसकी जीभ कटी हुई थी और उसकी गर्दन और पीठ की हड्डियां आरोपियों ने तोड़ दीं, जो उच्च जाति के थे। इसके बाद पीड़िता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया।

ये भी पढ़े…

यूपी की एक और बेटी के साथ हुई हाथरस जैसी हैवानियत, मरने से पहले पीड़िता बोली- मां बहुत दर्द है, अब बचूंगी नहीं

हाथरस गैंगरेप: पुलिस ने परिवार को नहीं दिया शव, देर रात खुद ही कर दिया अंतिम संस्कार, ADG की सफाई- खराब हो रहा था शव, इसलिए उसे जलाया

UP: दो हफ्तों से जिंदगी-मौत के बीच जंग लड़ रही दुष्कर्म पीड़िता की मौत, गला दबाकर की मारने की कोशिश

Related posts