विशेषज्ञों ने भी माना भारतीय मसाले के गुण, बोले- एलर्जी से लेकर कैंसर जैसी बीमारी तक से बचाते हैं

benefits indian spices,health news,health care

चैतन्य भारत न्यूज

भारतीय खाना दुनिया के अन्य हिस्सों के खाने से ज्यादा पौष्टिक होता है। इसकी सबसे बड़ी वजह है यहां के खानों में प्रयोग होने वाले भारतीय मसाले। दरअसल हमारे यहां खाने में प्रयोग होने वाले ज्यादातर मसालों में औषधीय और आयुर्वेदिक गुण होते हैं इसलिए खाने में इन्हें डालने से न सिर्फ खाना स्वादिष्ट और खुशबूदार बनता है बल्कि ये मसाले कई तरह के रोगों से बचाते भी हैं। भारतीय मसाले एलर्जी से लेकर कैंसर तक से बचाते हैं।



benefits indian spices,health news,health care

जी हां… यह बात विशेषज्ञों ने भी मानी है। बेंगलुरु के सीनियर कंसल्टेंट रूमेटोलॉजिस्टिक डॉक्टर केएम महेंद्रनाथ ने बताया कि, रूमैटोइड आर्थराइट्स के निदान में अब बायोलॉजिकल मेडिसिंस पहले से ज्यादा बेहतर काम करने लगी और इनकी कीमते भी पिछले कुछ समय में कम हुई हैं। उन्होंने कहा कि, किडनी और लिवर की समस्या वाले मरीजों के लिए भी यह पूर्णतः सुरक्षित है।

सेहतमंद रहने के लिए खाने में इन चीजों का ध्यान दें

हल्दी

सभी भारतीय मसालों में किसी न किसी रोग से लड़ने की शक्ति और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की क्षमता होती हैं। जैसे कि, हल्‍दी में पाया जाने वाला करक्युमिन नामक तत्‍व कैंसर को फैलने से और टाइप-2 डायबिटीज को रोकने में मदद करता है। इसके इस्तेमाल से त्‍वचा संबंधी रोग भी दूर होते हैं। इसके अलावा साथ ही घाव या कटे पर हल्दी लगाने से काफी आराम मिलता है।

सरसों का तेल

सेहत के लिए खाने में सबसे अच्छे तेल सरसों का होता है। सरसों के तेल को बहुत पौष्टिक माना जाता है। इसकी तासीर (असर) गर्म होने से सर्दियों में यह अत्यंत लाभकारी माना जाता है। यह शरीर के किसी भी भाग में फंगस को बढ़ने से रोकता है और त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाता है।

benefits indian spices,health news,health care

दही

नियमित दही खाकर भी आप कई बीमारियों से बच सकते हैं। दही में मौजूद लैक्टोबैसिलस बैक्टीरिया शरीर के लिए बहुत उपयोगी हैं।

मछली का तेल

मछली के तेल में मिलने वाला ओमेगा थ्री फैटी एसिड ऑटोइम्युन बीमारियों को रोकने की क्षमता रखता हैं। इसलिए इसे भी अपनी डाइट में सीधे फिश खाकर या सप्लीमेंट के जरिए शामिल करें।

benefits indian spices,health news,health care

व्यायाम

इसके अलावा योग, ध्यान और व्यायाम भी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में विशेष सहयोग देते हैं। इसलिए संतुलित आहार के साथ आप अपनी दिनचर्या में इन्हें भी जरूर शामिल करें।

सुबह-शाम की धूप

विटामिन डी की कमी पूरी करने के लिए सुबह और शाम की धूप लेने के साथ ही इसके सप्लीमेंट्स भी लें, यह इम्यून सिस्टम के लिए भी जरुरी हैं।

ये भी पढ़े…

मल्टी टास्किंग से बढ़ रहा है तनाव, जानें इसके नुकसान और इससे बचने के उपाय

तनाव और थकान को दूर कर देंगी ये रिलैक्सेशन टिप्स

दिल की बीमारी से बचने के लिए मदद करेंगे ये सुपरफूड, जान लें इनके फायदें

Related posts