लॉकडाउन : स्वास्थ्य मंत्रालय को सता रही घर में कैद बच्चों की चिंता, अभिभावकों को बताए ये रचनात्मक कदम

mother teach children

चैतन्य भारत न्यूज

कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के चलते हर किसी को घर के अंदर कैद रहना पड़ रहा है। बड़े तो फिर भी समझ जाते हैं लेकिन बच्चें घर में रहकर परेशान होने लगे हैं। अब तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को घर में कैद हो चुके बच्चों की चिंता सताने लगी है। इसे देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने बंगलुरू के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेस (एनआईएमएचएएनएस) के साथ करार किया है।

एनआईएमएचएएनएस के बाल व किशोर विभाग के प्रो. शेखर पी शेषाद्री ने कहा कि, लॉकडाउन के कारण बच्चों का रूटीन खराब होता जा रहा है। बच्चे बार-बार बस यही सवाल पूछते हैं कि ये सब कब खत्म होगा। ऐसी स्थिति में माता-पिता बच्चों को आसान जवाब दें । वे उन्हें वायरस के डर के बारे में न बताएं। इस स्थिति में अभिभावकों की जिम्मेदारी बनती है कि वे बच्चों का रूटीन कैसे तैयार करते हैं जिससे उसका मन लगा रहे।’

आइए जानते हैं आप बच्चों के लिए क्या कर सकते हैं-

घर में कराएं स्कूल का काम
आप अपने बच्चों से घर में रचनात्मक तरीके से एक-दो घंटे स्कूल का काम करवा सकते हैं। उन्हें किसी न किसी तरह से बहला कर रखें जिससे उनका मन लगा रहे। सभी लोग एकसाथ घर में कुछ खेल खेल सकते हैं।

परिवार के बीच वक्त बिताने का बेहतर समय
ये समय परिवार के बीच वक्त बिताने के लिए बेहतर है। आप अपने बच्चों को कहानियां सुनाएं उन्हें, घर-परिवार से जुड़ी पुरानी बातें उन्हें कहानी के तौर पर बताएं जिससे कई उनके भीतर उसको जानने और समझने की रुचि बनी रहे।

धर्म और रीति-रिवाज
इस खाली समय में आप बच्चों को अपने धर्म से संबंधित जानकारी दे सकते हैं। आप उन्हें अपने रीति-रिवाज के बारे में बता सकते हैं।

बच्चों को बताएं ये सब अस्थायी है
आप बच्चों को बताए कि ये समस्या अस्थायी है। सब कुछ जल्द ही सामान्य हो जाएगा। ऐसा करेंगे तो उनके भीतर इस बात की खुशी होगी कि आने वाले समय में उनके पुराने दिन वापस आ जाएंगे।

ये भी पढ़े…

 लॉकडाउन: घर में बैठे-बैठे बच्चें हो रहे हैं बोर, इन तरीकों से बनाएं उन्हें क्रिएटिव और एक्टिव

 बच्चों की मोबाइल की लत किडनी संबंधित बीमारियों को दे रही न्योता, जंक फूड भी है जिम्मेदार

लॉकडाउन में घर में हो रहे हैं बोर? कुछ इस तरह करें समय का सदुपयोग

Related posts