यदि दूसरा डोज अलग वैक्सीन का लग जाए तो भी कोई दिक्कत नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

चैतन्य भारत न्यूज

देश में कोरोना संकट के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को देश में कोरोना की स्थिति को लेकर अहम जानकारी दी है। मंत्रालय ने प्रेस वार्ता में कहा कि 24 राज्यों ने पिछले सप्ताह से सक्रिय मामलों में गिरावट दर्ज की गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश में कोरोना से ठीक होने की दर बढ़ी है और रिकवरी रेट बढ़कर 90 फीसदी हो गया है। 24 राज्यों में केस घट रहे हैं। इस बीच डॉक्टर वीके पॉल ने कहा कि दूसरी डोज़ में अगर अलग वैक्सीन लग जाए तो चिंता की बात नहीं है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि, पिछले 24 घंटों में देश में 2,11,000 मामले दर्ज किए गए हैं। सक्रिय मामले 8।84 फीसदी हैं। 10 मई को देश में 37,45,000 सक्रिय मामले थे जो अब 24,19,000 रह गए हैं। उन्होंने कहा कि 3 हफ्ते पहले 531 जिलों में रोज 100 नए मामले प्रतिदिन दर्ज किए जाते थे, अब ऐसे जिले 359 रह गए हैं। देश में आज 2,83,000 रिकवरी दर्ज की गई हैं। 23 राज्य देश में ऐसे हैं, जहां प्रतिदिन रिकवर मामलों की संख्या नए मामलों से ज्यादा है। रिकवरी रेट अब 90 फीसदी हो गई है।

अलग वैक्सीन का दूसरा डोज ले सकते हैं

उत्तर प्रदेश में गलती से एक शख्स को दो अलग-अलग वैक्सीन लग जाने को लेकर वीके पॉल ने कहा कि, हमारा प्रोटोकॉल स्पष्ट है कि दिए गए दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए। इस मामले की जांच होनी चाहिए। अगर ऐसा हुआ भी है तो यह चिंता का विषय नहीं होना चाहिए। दूसरी वैक्सीन लग भी जाए तो कोई दिक्कत नहीं है।

Related posts