मच्छरों से चाहिए छुटकारा, तो घर में लगाएं ये पौधे

mosquito,health news, tulsi ka podha,neem ka ped

चैतन्य भारत न्यूज

बरसात के मौसम मच्छरों की तादात तेजी से बढ़ने लगती है। इसकी वजह है जगह-जगह बारिश का पानी भरा हुआ होना। मच्छर के काटने से मलेरिया, डेंगू, स्वाइन फ्लू, चिकनगुनिया जैसी जानलेवा बीमारियां फैलती हैं। इस तरह की बीमारियों से बचने के लिए ज्यादातर लोग क्रीम्स, स्प्रे, मैट जैसे कई तरह के नुस्खे आजमाते हैं। लेकिन आज हम आपको बताने जा रहें हैं कुछ ऐसे घरेलू उपाय जिनकी मदद से आप बड़ी आसानी से मच्छरों से छुटकारा पा सकते हैं।

mosquito,health news, tulsi ka podha,neem ka ped

दरअसल घरों में पौधे न केवल सुंदरता बढ़ाते हैं बल्कि ये सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होते हैं। कई पौधे ऐसे भी होते हैं जो मच्छरों को दूर भगाते हैं। आप चाहे तो इसे घर के बाहर गार्डन में, आंगन या फिर बालकनी में लगा सकते हैं। तो आइए जानतें हैं कौन से हैं वे पौधे।

तुलसी का पौधा

mosquito,health news, tulsi ka podha,neem ka ped

तुलसी का पौधा घरों में लगाना शुभ माना गया है। इसलिए यह पौधा हर किसी के घर में मिल जाता है। हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे की पूजा की जाती है। इस पौधे की खास बात यह भी है कि इसकी सुगंध से मच्छर दूर भागते हैं। आप चाहे तो इसे घर के बाहर, दरवाजे के पास या खिड़की पर लगा सकते हैं।

नीम का पेड़

mosquito,health news, tulsi ka podha,neem ka ped

नीम के पेड़ की खुशबू से भी मच्छर भागते हैं। साथ ही मक्खी और दूसरी तरह के कीड़ों को दूर करने के लिए नीम का पौधा लगाना काफी लाभदायक होता है। अगर आपके घर के आसपास या गार्डन में नीम का पेड़ नहीं है तो जल्द ही आप नीम लगा सकते हैं।

गेंदे के फूल

mosquito,health news, tulsi ka podha,neem ka ped

घर की सजावट के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले गेंदे के फूलों की खूशबू मच्छरों को पसंद नहीं आती। इन फूलों की तेज महक से मच्छर दूर भागते हैं। मच्छरों को दूर भगाने के लिए घर के बगीचे या फिर गमलों में गेंदें का पौधा लगा सकते हैं।

 

नोट : यह आलेख केवल पाठकों की अति सामान्य जागरुकता के लिए है। चैतन्य भारत न्यूज का सुझाव है कि इस आलेख को केवल जानकारी के दृष्टिकोण से लें। इनके आधार पर किसी बीमारी के बारे में धारणा न बनाएं या उसके इलाज का प्रयास न करें। यह भी याद रखें कि स्वास्थ्य से संबंधित उचित सलाह, सुझाव और इलाज प्रशिक्षित डॉक्टर ही कर सकते हैं।

Related posts