जानिए बारिश के मौसम में क्या खाएं और किन चीजों से करें परहेज

health,health news,monsoon,health tips for monsoon

चैतन्य भारत न्यूज

बारिश आने के साथ ही कई बीमारियां भी दस्तक देने लगती हैं। इस मौसम में सर्दी जुकाम और पेट में संक्रमण की आशंका सबसे ज्यादा होती है। हालांकि कुछ खास बातों का ध्यान रखकर हम इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। आज हम आपको बताएंगे बारिश के दिनों में डाइट को लेकर क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए।

बारिश के मौसम में क्या करें-

विटामिन-सी लें : सर्दी-खांसी और जुकाम से बचने के लिए आप अपनी डाइट में विटामिन-सी की मात्रा बढ़ाए। विटामिन-सी इंफेक्शन के खिलाफ इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार होता है। विटामिन-सी को नेचुरल फॉर्म (जैसे नींबू) में लेने की कोशिश करें।

पानी पीते रहें : बारिश के मौसम में प्यास कम महसूस होती है। इन दिनों में व्यक्ति पर्याप्त पानी नहीं पी पाता जिसकी वजह से कई बार डीहाइड्रेशन की स्थिति आ जाती है। इसलिए बारिश के मौसम में प्यास न लगने पर भी भरपूर मात्रा में पानी चाहिए।

डाइट में कड़वी चीजों को शामिल करें : इस मौसम में करेले का अधिक से अधिक सेवन करें। प्रतिदिन नीम के एक-दो छोटे मुलायम पत्तों का सेवन भी शरीर के लिए फायदेमंद होता है। दरअसल कड़वी चीजों से इम्युनिटी बढ़ती है जो हमें सर्दी-जुकाम से बचाती है।

हर्बल टी या ग्रीन टी पिएं : रोजाना की डाइट में जैस्मिन या ग्रीन टी जैसी चाय को शामिल करें। सुबह की चाय में तुलसी (श्यामा तुलसी होगी तो बेहतर रहेगा) के चार-पांच पत्ते पीसकर मिलाएं और पिएं। यह चाय आपको इंफेक्शन और सर्दी खांसी से बचाएगी।

बारिश के मौसम में क्या ना करें-

स्पाइसी फूड के सेवन से बचें : बारिश के मौसम में पकौड़े जैसी चीजें खाने का बहुत मन करता है, लेकिन इस बात का ख्याल रहें कि ये ज्यादा मिर्च-मसालेदार न हो। ज्यादा नमक वाला खाना भी न खाएं। दरअसल ज्यादा मिर्च मसाले से आंतों को नुकसान पहुंचता है।

कच्चा-सलाद सब्जियां न खाएं- मानसून में कच्चे सलाद का सेवन नहीं करना चाहिए। साथ ही पत्तेदार सब्जियां जैसे पत्ता गोभी भी कच्चा भूलकर भी न खाएं। आप चाहे तो इन्हें गर्म पानी में उबालकर जरूर खा सकते हैं।

मछली और मीट खाने से बचें- मानसून में नॉनवेज फूड जैसे मछली हो या फिर और भी किसी तरह के मांस-मटन का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि बारिश में इन पर बैक्टीरिया पनपने की आशंका अधिक रहती है। इसलिए बेहतर होगा कि आप इस मौसम में नॉनवेज फूड न खाएं।

चाय-कॉफी कम करें- बारिश के ठंडे मौसम में चाय-कॉफी पीने का ज्यादा मन करता है। लेकिन कैफीन से युक्त पेय पदार्थों को सीमित मात्रा में ही लेना चाहिए। बता दें बॉडी में कैफीन की अधिक मात्रा डीहाइड्रेशन बढ़ाती है जिससे कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं।

बारिश के मौसम में ये भी आजमा सकते हैं

  • सर्दी-खांसी या जुकाम को दूर करने के लिए एक कप गुनगुने पानी में चुटकी भर सौंठ मिलाकर पिएं। इस पानी को आप दिन में दो से तीन बार पी सकते हैं।
  • वायरल फीवर होने पर पानी में तुलसी के पत्ते और अदरक मिलाकर उसे उबालें। इसमें शहद मिलाकर दिन में दो से तीन बार पिएं।
  • जब भी आपको सांस लेने में परेशानी आएं तो रुमाल में नीलगिरी (यूकेलिप्टस) तेल की तीन-चार बूंदे डालकर सूंघ लें। गर्म पानी में भी तेल की तीन-चार बूंदे डालकर सूंघने से आराम मिलेगा।

ये भी पढ़े…

बारिश के मौसम में सर्दी-जुकाम दूर करने के लिए तुरंत अपनाएं यह घरेलु नुस्खा

बारिश में भीगने से नहीं बल्कि वायरस के हमले से बिगड़ती है सेहत

बारिश में दाद, खाज और खुजली से राहत दिलाएगा ये लाल रंग का फूल, ऐसे करें इस्तेमाल

 

Related posts