दिल की बीमारी से बचने के लिए मदद करेंगे ये सुपरफूड, जान लें इनके फायदें

Heart disease prevention, how to prevent heart attack, health news ,health tips,Heart disease,

चैतन्य भारत न्यूज

दिल से ही तो हमारी धड़कनें चलती हैं और उसी से हम जिंदा हैं इसलिए दिल की देखरेख बहुत जरूरी है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे सुपरफूड जिन्हें खाने के माध्यम से धमनियों को स्वस्थ्य रख सकते हैं और दिल की बीमारी से बच सकते हैं।



ओट्स- ओट्स शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है। ओट्स की उच्च फाइबर सामग्री के कारण, रोजाना ओटमील खाने से आप खून के कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते हैं।

बाजरा- बाजरा खराब केलोस्ट्रोल में कटौती करता और उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (अच्छा कोलेस्ट्रॉल) कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है।

साबुत अनाज- साबुत अनाज में फाइबर होता है जो एलडीएल कोलेस्ट्रॉल की अधिकता कम करता है। इसमें मैग्नीशियम भी होता है जो रक्तचाप को अच्छे स्तर तक पहुंचाता है।

पालक- पालक में कई गुण होते हैं जो शरीर को स्वस्थ्य रखती है। पालक पोटेशियम, फोलेट और फाइबर से भरपूर होती है जो निम्न रक्तचाप में मदद करती है और धमनी की रूकावट रोकती है।

ब्रोकली- इसमें विटामिन K होता है जो धमनी को बंद होने से रोकता है। यह तनाव भी कम करता है। ब्रोकली में सल्फोराफेन भी होता है जो शरीर को प्रोटीन का उपयोग करने में मदद करता है।

नट्स- नट्स धमनियों को साफ करने में मदद करते हैं। इनमें अखरोट और बादाम सबसे अच्छे होते हैं। अखरोट ओमेगा-3 फैटी एसिड का अच्छा स्त्रोत है जो खराब कोलेस्ट्रॉल को कम और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है।

जैतून का तेल- जैतून के तेल में मोनोअनसैचुरेटेड ओलिक एसिड, फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट हैं जो खराब कोलेस्ट्रॉल को कम और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है।

हल्दी- हल्दी में विटामिन B6 होता है जो होमोसिस्टीन का स्वस्थ स्तर बनाए रखता है। हल्दी धमनियों की परत के नुकसान को भी कम कर देती है।

 

विशेष ध्यानार्थः यह आलेख केवल पाठकों की अति सामान्य जागरुकता के लिए है। चैतन्य भारत न्यूज का सुझाव है कि इस आलेख को केवल जानकारी के दृष्टिकोण से लें। इनके आधार पर किसी बीमारी के बारे में धारणा न बनाएं या उसके इलाज का प्रयास न करें। यह भी याद रखें कि स्वास्थ्य से संबंधित उचित सलाह, सुझाव और इलाज प्रशिक्षित डॉक्टर ही कर सकते हैं।

ये भी पढ़े…

आखिर क्या है हार्ट अटैक आने का कारण? जानें इसके लक्षण और बचाव

जानिए कैसे होती है शरीर में मिनरल्स की कमी और क्या हैं इसके लक्षण

आखिर क्यों मच्छर के काटने से होती है खुजली? आप भी जानिए

Related posts