11 हजार वोल्ट का झटका लगने से शरीर के बाहर आ गया था दिल, डॉक्टर्स ने ऐसे बचाई जान

dinesh parihar

चैतन्य भारत न्यूज

अहमदाबाद. दो महीने पहले राजस्थान में जोधपुर के रहने वाले 14 वर्षीय दिनेश परिहार को 11 हजार वोल्ट का बिजली का झटका लगा था। झटका इतना जोरदार था कि दिनेश का दिल शरीर से बाहर आ गया था और इससे उन्हें काफी नुकसान हुआ था। लेकिन अहमदाबाद के डॉक्टरों ने तीन बड़े ऑपरेशन कर दिनेश को नया जीवन दे दिया।


शरीर का अधिकांश हिस्सा झुलस गया

दिनेश का इलाज करने वाले डॉ. विजय भाटिया के मुताबिक, वह अब दौड़ भी लगा सकता है। दिनेश को कार्डियक संबंधी समस्या भी नहीं होगी। मेडिकल साइंस में दिनेश का रेयरेस्ट ऑफ द रेयर श्रेणी का इलेक्ट्रिक बर्न का केस था। जानकारी के मुताबिक, दिनेश को 7 सितंबर को गंभीर हालत में अहमदाबाद लाया गया। हाईटेंशन वायर से करंट लगने से उसके दिल के अलावा और भी कई अंग झुलस गए थे। सीटी स्कैन जांच में सामने आया कि दिनेश का सीना करंट की चपेट में आ गया था। इतना ही नहीं बल्कि करंट लगने से दिनेश के सीने के ऊपर चमड़ी से लेकर स्नायु, नस, पसलियां और हार्ट की सुरक्षा करने वाली ऊपरी परत तक जल गई थी।

फेफड़े का भी कुछ हिस्सा खुल गया

11 सितंबर को दिनेश का पहला ऑपरेशन किया गया जिसमें हार्ट के ऊपर से जले हुए तमाम हिस्सों को हटाया। क्षतिग्रस्त हिस्से को दूर करने के बाद दिनेश का पूरा हार्ट ही नहीं बल्कि फेफड़े का भी कुछ हिस्सा खुल गया था। हार्ट डैमेज जरूर हुआ था लेकिन उसका इलाज संभव था। फिर उसके शरीर के दाहिने हिस्से से स्वस्थ त्वचा-स्नायुओं (Skin muscles) का हिस्सा लेकर हार्ट को कवर किया। इसके बाद हुए दो ऑपरेशन में दिनेश के अन्य झुलसे हुए हिस्से को ठीक किया गया। 7 दिन आईसीयू में रखने के बाद दिनेश को बाहर लाया गया। दिनेश का करीब डेढ़ महीने तक इलाज चला जिसके बाद उसे छुट्‌टी दे दी गई।

ये भी पढ़े…

दफ्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का और सरेआम जला डाला, विरोध में सड़क पर उतरे कर्मचारी

दिवाली पार्टी में ऐश्वर्या की मैनेजर के लहंगे में लगी आग, शाहरुख ने खुद जख्मी होकर बचाई जान

पीएम मोदी की आलोचना कर रहे थे पाकिस्तानी रेल मंत्री, तभी लगा बिजली का जोरदार झटका

 

Related posts