कैफे के लेडीज टॉयलेट में लगा था हिडन कैमरा, महिला की पड़ी नजर, ऐसे किया बेनकाब

pune cafe camera

चैतन्य भारत न्यूज

पुणे. एक महिला ने सोशल मीडिया के जरिए लेडीज टॉयलेट के अंदर कैमरे लगे होने की घटना शेयर की है। उसने यह बताया कि, जब वह टॉयलेट के अंदर गई तो उसे कैसे पता चला कि यहां कैमरा लगा है। लड़की का पोस्ट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।




यह घटना पुणे की है। जहां के एक पॉपुलर कैफे के टॉयलेट में महिला ने कैमरा लगा हुआ पाया। कैमरे लगे होने की शिकायत महिला ने कैफे मैनेजमेंट को की, जिसके बाद मैनेजमेंट ने उसे इंतजार करने को कहा। इस दौरान वहां से महिला को हटा दिया गया और फिर कैफे मैनेजमेंट ने गोपनीय तरीके से टॉयलेट से कैमरे को हटवा दिया। महिला ने अपने पोस्ट में यह भी लिखा है कि, उसने जब वहां से जाने से इनकार कर दिया और एक्शन लेने की बात कही, तो कैफे प्रबंधन ने उसे रिश्वत देने की भी कोशिश की।


मैनेजमेंट द्वारा कैमरा छिपा दिए जाने के बाद भी महिला ने हिम्मत नहीं हारी और इसके खिलाफ आवाज उठाई। शिकायत करने के बाद भी कैफे वाले लगातार बहाने बनाते रहे और उन्होंने आरोपियों को ढूंढने के लिए कोई प्रयास नहीं किया। महिला ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए इस पूरे वाकये को शेयर कर दिया जो देखते ही देखते आग की तरह फैल गया। लोगों ने भी महिला के पोस्ट को शेयर कर पुणे पुलिस को इसमें टैग किया और संबधित कैफे के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। वहीं पुणे पुलिस ने इस पर प्रतिक्रया भी दी और कहा कि अगर पुलिस में ऐसी किस भी प्रकार की शिकायत दर्ज होती है तो उन्हें खुशी होगी और मामले को संबंधित थाने में आगे बढ़ाया जाएगा। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस घटना के बाद कैफे ने अपने सभी सोशल अकाउंट बंद कर दिए हैं।

रूम में हिडन कैमरा है या नहीं, ऐसे करें पता

  • जब आप रूम या टॉयलेट में जाए तो सभी लाइट्स बंद करके पूरे रूम की ठीक से जांच-परख कर लें कि कहीं कोई रेड लाइट या फिर कोई ग्रीन लाइट तो नहीं जल रही है।
  • ट्रायल रूम में इस बात का ध्यान रखें कि कहीं रूम के दरवाजे के हुक या हैंडल में कोई कैमरा तो नहीं छुपा।
  • कमरे में अगर कोई आवाज आ रही है तो ध्यान लगाकर सुनें क्योंकि हिडन कैमरा में कुछ मोशन सेंसिटिव होते हैं जो खुद ब खुद ऑन हो जाते है।
  • जब भी किसी ट्रायल रूम में जाएं तो सबसे पहले सामने लगे शीशे और ऊपर की ओर दिए गए कोनों को ठीक से चेक कर लें। सतर्क रहना बेहतर होता है।
  • रुम के शीशे में कोई कैमरा छिपा तो नहीं इसका पता लगाने के लिए सबसे पहले शीशे में एक ऊंगली रखें। अगर शीशे में रखी ऊंगली और शीशे में दिख रही उंगली के बीच में अंतर या गैप रहता है तो समझ लें कि शीशा ओरिजनल है और अगर आपकी ऊंगली जुड़ी रहती है तो यानी शीशे के पीछे आपका सबकुछ दिख रहा है और संभवत: वहां कैमरा है जोकि सब रिकॉर्ड कर रहा है।
  • हिडन कैम डिटेक्टर बहुत उपयोगी है क्योंकि ये डिटेक्टर कहीं भी छिपे हुए कैमरा को खोज लेते हैं।
  • आपका स्मार्टफोन भी हिडन कैमरा का पता लगाने में मदद कर सकता है। इसमें बॉडीगार्ड नामक एप को डाउनलोड करें और जैसे ही इसे ऑन करके आप अपने स्मार्टफोन को रूम में घुमाएंगे तो रेड कलर का निशान ब्लिंक दिखने लगें तो समझ लें कि रूम में कैमरा छिपा है।

Related posts