इंदौर-भोपाल में अफसर, नेता व रईसों को अपने जाल में फंसाकर ब्लैकमेल, कई महिलाएं गिरफ्तार

honeytrap

चैतन्य भारत न्यूज

भोपाल. मध्य प्रदेश में हाई प्रोफाइल हनी ट्रैप मामले का खुलासा होने के बाद से ही हड़कंप मचा हुआ है। हनी ट्रैप के मामले में एटीएस की टीम ने पांच महिलाएं और एक पुरुष समेत कुल 6 लोगों को भोपाल और इंदौर से गिरफ्तार किया है। महिलाएं हाई प्रोफाइल अधिकारियों और व्यापारियों को हनीट्रैपिंग के जरिए ब्लैकमेल कर रही थीं।



कुछ महिलाओं को भोपाल के पॉश इलाके रिवेया टाउन और अवधपुरी से पकड़ा गया है। हिरासत में लेने के बाद इन महिलाओं से भोपाल के गोविंदपुरा थाने में पूछताछ की गई। फिर उन्हें बुधवार देर रात आगे की पूछताछ के लिए इंदौर लाया गया। यह मामला हाई प्रोफाइल है इसलिए इसकी जांच मध्यप्रदेश पुलिस का इंटेलिजेंस विभाग भी कर रहा है। पूछताछ के दौरान महिलाओं के मोबाइल से आपत्तिजनक फुटेज भी मिले हैं। यह फुटेज उनके द्वारा की गई हनीट्रैपिंग की पुष्टि कर रहे हैं, लेकिन महिलाएं किसी मामले में लिप्त होने से साफ इंकार कर रही हैं।

हाईप्रोपाइल अधिकारियों और बड़े व्यापारियों को महिलाओं द्वारा हनी ट्रैप में फंसाकर उनसे संबंध बनाए। फिर उनके वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी देते हुए उनसे अवैध काम भी करवाए। वीडियो के बदले महिलाएं तीन करोड़ रुपए की मांग कर रही थीं। एक अफसर ने इस मामले में इंदौर के पलासिया थाने पर धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है।

सूत्रों के मुताबिक, महिलाओं ने इंदौर नगर निगम के एक अधिकारी को अपने जाल में फंसाया और उन्हें ब्लैकमेल कर 2 करोड़ रुपए मांग रही थी। वे फोन पर लगातार अधिकारी को धमकी दे रही थी। इतना ही नहीं बल्कि ये महिलाएं भोपाल में कुछ नेताओं और अधिकारियों को अपना शिकार भी बना चुकी हैं। पूछताछ के दौरान पता चला कि महिलाओं के गैंग ने एक आईएएस से भी मोटी रकम ऐंठी है। एटीएस के पास रकम के ट्रांसेक्शन समेत और भी कई साक्ष्य मौजूद हैं।

 

Related posts