धूम्रपान और तंबाकू का सेवन करने वाले लोगों की संख्या हुई कम, देखें रिपोर्ट

tobacco

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. धूम्रपान और तंबाकू का विरोध करने वालों के लिए एक खुशखबरी है। पहली बार धूम्रपान करने वाले और तंबाकू का इस्तेमाल करने वाले पुरुषों की संख्या में लगातार होती वृद्धि पर काबू पाया गया है। हाल ही में विश्व स्वस्थ्य संगठन ने एक रिपोर्ट जारी की है जिसके मुताबिक, दुनिया में तंबाकू का सेवन करने वालों की संख्या कम हो रही है।



डब्ल्यूएचओ ने 19 दिसंबर को यह रिपोर्ट जारी की है जिसके अनुसार, साल 2000 की तुलना में तंबाकू का इस्तेमाल करने वालों की संख्या में 6 करोड़ की कमी देखी गई है। यह रिपोर्ट साल 2018 के डेटा पर आधारित है। साल 2000 में दुनिया भर में 1.397 अरब लोग तंबाकू का सेवन करते थे। 18 साल बाद यानी अब यह संख्या कम होकर 1.337 अरब हो गई है।

तंबाकू से हर साल 80 लाख लोगों की मौत

गौरतलब है कि दुनियाभर में हर वर्ष तंबाकू के सेवन करने से करीब 80 लाख लोगों की मौत होती है। साथ ही इसके प्रत्यक्ष उपयोग से 70 लाख लोग अपनी जान गवा देते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि करीब 12 लाख लोग सिर्फ पैसिव स्मोकिंग की वजह से मौत का शिकार हो जाते हैं। यानी ये लोग धूम्रपान नहीं करते बल्कि धूम्रपान करने वालों के साथ स्मोकिंग के समय होने से वह सीधे हानिकारक हवा को सांस के रूप में लेते हैं। इस वजह से भी उनकी मौत हो जाती है।

तंबाकू से कैंसर का खतरा

बता दें कि तंबाकू के सेवन से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से फेफड़े पर प्रभाव पड़ता है जिसमें सबसे ज्यादा कैंसर की समस्या देखी गई है। तंबाकू खाने से न केवक फेफड़ों बल्कि मुंह, गला व अन्य तरह के भी कैंसर होने की संभावना होती है।

ये भी पढ़े…

7 साल की बच्ची ने शुरू की सिगरेट-तंबाकू छुड़ाने की मुहिम, लोगों से कहती है- 4 दिन हो गए कश नहीं लिया, सिगरेट दो ना

विश्व तंबाकू निषेध दिवस : सिगरेट पीने के बाद ऐसी हो जाती है फेफड़ों की हालत, देखें वीडियो

VIDEO : रोजाना डिब्बा भरकर सिगरेट पीता था शख्स, फेफड़ों का हाल देखकर डॉक्टर्स भी हुए हैरान

 

Related posts