शिकायत कुछ ऐसे करें कि वो सुनी जाए, जबरन सवालों का तांता न लगाएं

couple argument

चैतन्य भारत न्यूज

ज्यादातर पत्नियों को यह शिकायत रहती है कि पति उन्हें पर्याप्त समय नहीं देते हैं। वहीं पतियों की यह शिकायत रहती है कि पत्नियां अधिक खर्च करती हैं। वैसे ये तो मामूली शिकायतें होती हैं लेकिन रिश्तों को मजबूत रखने के लिए कुछ बातें ऐसी भी होती हैं जिन्हें कहना और सुनना बहुत जरुरी है। कई बार कुछ शिकायतें या बातें मन के अंदर ही किसी कोने में सालों तक चलती रहती हैं। या तो उन्हें कहने का मौका नहीं मिलता या फिर आप कहना ही नहीं चाहते। लेकिन समय रहते शिकायतें हमेशा दूर कर देनी चाहिए।

भावनाएं व्यक्त करें

यदि आपको पार्टनर की किसी बात का बुरा लगा हो या आपको उन्हें कुछ कहने में झिझक महसूस हो रही हो तो इस असमंजस से बाहर निकलिए। यदि आप इन बातों को मन में रखेंगे तो गुस्से में सारा असंतोष भी बाहर आ जाएगा। हर बात को कह देना किसी भी रिश्ते की मजबूती के लिए बहुत जरुरी होता है। इसलिए आप अपनी भावनाएं व्यक्ति करने के लिए ऐसे समय की तलाश करें जब आप और आपके साथी दोनों के पास ही बातचीत करने का पर्याप्त समय हो और दोनों का मूड शांत हो।

जो कहना है उसे साफ कहें

किसी बात को घुमा-फिराकर कहने से वो और ज्यादा बढ़ती जाती है। इसलिए पार्टनर से बात करते समय आप वहीं बात साफ-साफ शब्दों में कहे जो आपको तकलीफ देती है। ऐसा करने से सामने वाले को आपकी बात भी समझ आ जाएगी और इससे वह अपने व्यवहार में भी बदलाव ला सकेगा।

समस्या जानने की कोशिश करें

बातचीत करने के दौरान सबसे पहले यह जानना बहुत जरुरी है कि समस्या है कहां? आप अपने साथी से उनके ऐसे व्यवहार का कारण पूछे, या फिर उनसे ये पूछे कि आपकी किसी आदत या अनजाने में हुई किसी गलती के कारण उनका व्यवहार ऐसा हो गया है क्या? ऐसे सवाल पूछने से वे सहजता से आपको अपने मन की बात बता देंगे।

ये भी पढ़े… 

कहीं ये तो नहीं आपकी रिलेशनशिप खराब होने की वजह?

रिलेशनशिप की वो कड़वी सच्चाईयां, जिसे कोई भी स्वीकार नहीं करना चाहता

जीवन के उतार-चढ़ाव में एक-दूजे का साथ देकर परिवार को यूं बनाएं खुशहाल

Related posts