हैदराबाद एनकाउंटरः हाईकोर्ट का आदेश, दोबारा होगा चारों आरोपितों के शवों का पोस्टमॉर्टम

hyderabad encounter

चैतन्य भारत न्यूज

हैदराबाद. तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के चारों आरोपितों के एनकाउंटर का राज धीरे-धीरे गहराता जा रहा है। एनकाउंटर की सच्चाई का पता लगाने के लिए तेलंगाना हाईकोर्ट ने चारों शवों का फिर से पोस्टमार्टम करने के आदेश जारी कर दिया है।


शवों को संरक्षित रखने का दिया था आदेश

शनिवार को इस मामले की सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने गांधी अस्पताल के शवगृह में संरक्षित किए गए चारों आरोपितों के शवों का दोबारा पोस्टमॉर्टम करने का आदेश दिया है। बता दें 6 दिसंबर को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान चारों आरोपितों को मार गिराया था। इसके बाद हाई कोर्ट ने चारों के शवों को संरक्षित तरीके से एक अस्पताल में रखने का आदेश दिया था।

अस्पताल ने जताई थी चिंता

गांधी अस्पताल के वरिष्ठ मेडिकल ऑफिसर ने चिंता जताई थी कि शवों को लंबे समय तक सुरक्षित नहीं रखा जा सकेगा। साथ ही अस्पताल प्रशासन ने अदालत से मांग की थी कि वह शवों के संबंध में कोई निर्देश दें। इसके बाद कोर्ट ने दोबारा पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया। बता दें इससे पहले मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा था कि, ‘एनकाउंटर से जुड़े तथ्यों का पता लगाने के लिए दिल्ली की विशेषज्ञ टीम एक बार फिर शवों का पोस्टमार्टम कर सकती है।’

एनएचआरसी की टीम ने किया घटनास्थल का दौरा

एनकाउंटर की सच्चाई पता लगाने के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) के सात सदस्यीय दल ने उस जगह का दौरा किया था, जहां महिला डॉक्टर के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के आरोप में गिरफ्तार किए गए आरोपित कथित मुठभेड़ में मारे गए थे।

ये भी पढ़े…

हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म-हत्या : कोर्ट पहुंचे अस्पताल के लोग, कहा- आरोपितों के शव हो सकते हैं खराब

हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म-हत्या : दुष्कर्मियों की पत्नी और परिवार ने की सरकारी नौकरी और 10 लाख रुपए की मांग

हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म-हत्या: 10 दिन बाद भी पड़ी है एनकाउंटर में मारे गए चारों आरोपितों की लाश, यह है वजह

Related posts