हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म-हत्या : दुष्कर्मियों की पत्नी और परिवार ने की सरकारी नौकरी और 10 लाख रुपए की मांग

telangana encounter

चैतन्य भारत न्यूज

हैदराबाद. तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपितों को एनकाउंटर में मार गिराया। चार में से एक आरोपी की पत्नी ने कहा कि, उसे सरकारी नौकरी दी जाए। साथ ही अन्य तीन आरोपितों के परिवार वालों ने भी कहा कि, ‘उन्हें अब तक इस बात की जानकारी नहीं दी गई है कि उन्हें शव कब सौंपे जाएंगे।’

घर और 10 लाख मुआवजे की मांग

आरोपी चिन्नाकेशवुलु की गर्भवती पत्नी ने कहा कि, ‘मैं अब अपने पति को नहीं मांग सकती, अब वह मारे जा चुके हैं। अगर सरकार मुझे मेरे गांव में नौकरी दे सकती है तो दे, ताकि मैं अपनी जरूरतें पूरी कर सकूं।’ साथ ही आरोपी के माता-पिता ने कहा कि, ‘वह अपने इकलौते बेटे को खो चुके हैं। अब उनकी सरकार से मांग है कि वह उन्हें डबल बेडरूम और 10 लाख रुपए का मुआवजा दे।

10 दिन से अस्पताल में पड़ी हैं लाशें

बता दें 27 नवंबर की सुबह हैदराबाद के शादनगर क्षेत्र में महिला डॉक्टर का जला हुआ शव बरामद किया गया था। चारों ने डॉक्टर से सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसे जिंदा जला दिया था। फिर पुलिस ने चारों को धर दबोचा था। 6 दिसंबर को पुलिस चारों को क्राइम सीन रिक्रिएट कराने घटनास्थल ले गई थी। इस दौरान उन्होंने भागने की कोशिश की और फिर पुलिस ने एनकाउंटर में उन्हें मार गिराया। बाद में इन सबकी लाश को सरकारी अस्पताल भेज दिया गया। 10 दिन बाद तक चारों आरोपितों की लाश अस्पताल में ही पड़ी है। सुप्रीम कोर्ट कहा है कि, उनके आखिरी आदेश तक आरोपितों के शव को सुरक्षित रखा जाएगा।

ये भी पढ़े…

हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म-हत्या: 10 दिन बाद भी पड़ी है एनकाउंटर में मारे गए चारों आरोपितों की लाश, यह है वजह

हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म-हत्या : फॉरेंसिक रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा, महिला डॉक्टर को जबरन पिलाई गई शराब

हैदराबाद एनकाउंटर पर उठ रहे सवाल, जांच के लिए राज्य सरकार ने किया SIT का गठन

Related posts