कार्ड से पेमेंट करते हैं तो हो जाएं सावधान ,यहां हुई है 50 लाख की ठगी

चैतन्य भारत न्यूज।

नई दिल्ली। अभी तक आपने सुना होगा कि एटीएम में चोरों ने एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर लाखों रुपये उड़ा लिए, लेकिन अब आप किसी मॉल या किसी दुकान पर कार्ड से पेमेंट कर रहे हैं तो सावधान होना पड़ेगा, क्योंकि हो सकता कि वहां भी आपके एटीएम कार्ड का क्लोन बन जाए। डेबिट और क्रेडिट कार्ड की क्लोनिंग कर पैसे चुराने की घटनाएं आजकल काफी आम हो चुकी हैं।

नोएडा में ग्राहकों से धोखाधड़ी

कुछ ऐसा ही मामला नोएडा के जीआईपी मॉल के एक बर्गर रेस्तरां का है। रेस्तरां के एक कर्मचारी को कार्ड क्लोनिंग फ्रॉड करने के जुर्म में पकड़ा गया है। सुमित नाम का यह व्यक्ति रेस्तरां में सेल्स मैनेजर के तौर पर काम करता था। पुलिस ने बताया कि सुमित उन ग्राहकों के कार्ड की क्लोनिंग कर लेता था, जो अपने ऑर्डर का भुगतान करने के लिए एटीएम, डेबिट या क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते थे।

दरअसल यह पूरा मामला एटीएम कार्ड क्लोनिंग से जुड़ा है। पुलिस रिपोर्ट की मानें तो जिस तरह एटीएम में कार्ड क्लोनिंग मशीन की मदद से ठग एटीएम कार्ड का क्लोन यानि नकली कार्ड तैयार करते हैं, उसी तरह जीआईपी के एक बर्गर रेस्तरां में भी एटीएम कार्ड का क्लोन तैयार किया गया है।

धोखाधड़ी से बचने रखें ये सावधानियां, पढ़ें….

बैंक दे रहा एटीएम फ्रॉड से बचने जानकारी , रखें ये सावधानियां, जानें क्या करें अगर आपके साथ हुई है धोखाधड़ी

लगभग 500 लोगों से ठगी

पुलिस के मुताबिक सुमित हर दिन करीब 50 से 60 एटीएम कार्ड्स की क्लोनिंग कर उनका डेटा चुराता था। पुलिस ने बताया कि बर्गर किंग में काम करने वाला सुमित ग्राहकों के एटीएम कार्ड के डेटा को दिसंबर 2018 से चुरा रहा था। वहीं पुलिस अब पीड़ित लोगों की मदद से मास्टरमाइंड की तलाश कर रही है। जानकारी अनुसार इममें करीब 500 लोगों से ठगी की गई है और लोगों को लगभग 50 लाख का चूना लगाया गया है।

मैनेजर गिरफ्तार

मामले में बर्गर रेस्तरां के सेल्स मैनेजर सुमित को गिरफ्तार किया गया है और उसके पास से एटीएम और क्रेडिट कार्ड का क्लोन तैयार करने वाली मशीन भी बरामद की गई है।

 

 

 

Related posts