पाकिस्तान : इमरान खान ने अपनी कुर्सी बचाने के लिए पास की बड़ी परीक्षा, पक्ष में पड़े 178 वोट

चैतन्य भारत न्यूज

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने नेशनल असेंबली में बहुमत हासिल कर लिया है। लगभग एक घंटे तक चले विश्वास मत की प्रक्रिया में इमरान खान के समर्थन में वोट 178 वोट पड़े। प्रधानमंत्री इमरान खान को अपनी कुर्सी बचाने के लिए नेशनल असेंबली में 172 वोटों की जरूरत थी। नेशनल असेंबली के स्पीकर ने यह घोषणा कर बताया कि इमरान खान की कुर्सी सुरक्षित है।

इस वजह से पेश करना पड़ा विश्वास मत प्रस्ताव

असल में, पाकिस्तान में सीनेट चुनाव में वित्त मंत्री अब्दुल हफीज शेख को हार का सामना करना पड़ा। वित्त मंत्री की हार के बाद विपक्षी दलों ने खान के इस्तीफे की मांग की थी। इस वजह से इमरान खान की सरकार को नेशनल असेंबली में विश्वास मत प्रस्ताव पेश करना पड़ा। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने नेशनल असेंबल में प्रस्ताव पेश किया। इमरान खान को संसद के 342 सदस्यीय निचले सदन में 178 वोट मिले और सामान्य बहुमत के लिए 172 वोट की जरूरत थी।

इमरान समर्थकों ने विपक्ष के साथ की बदसलूकी

विपक्षी पार्टियों ने इसका बहिष्कार किया। संसद के अंदर जब इमरान वोटिंग के लिए तैयार हो रहे थे, तब बाहर विपक्षी दलों की प्रेस ब्रीफिंग चल रही थी, जिसे इमरान की तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के समर्थकों ने निशाना बना डाला। इमरान समर्थकों ने संसद के बाहर एकत्रित हुए विपक्षी नेताओं के खिलाफ नारेबाजी की। इतना ही नहीं पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्बासी और पीएमएल-एन के दूसरे नेताओं के साथ बदसलूकी भी की।

Related posts