देश में नहीं रुक रहा भ्रष्टाचार, भ्रष्ट देशों की सूची में भारत दो पायदान फिसला, इन देशों में सबसे कम है भ्रष्टाचार

corruption

चैतन्य भारत न्यूज 

नई दिल्ली. सरकार ने भ्रष्टाचार कम करने को लेकर तमाम दावे पेश किए थे, लेकिन तस्वीर अब भी पुरानी ही दिख रही है। यह हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ग्लोबल करप्शन परसेप्शन इंडेक्स (वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक) 2019 की रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है।



रिपोर्ट के मुताबिक, भ्रष्ट देशों की सूची में भारत दो स्थान फिसल गया है। भ्रष्टाचार के मामले में साल 2018 में भारत 41 अंक के साथ 78वें नंबर पर था जो 2019 में दो पायदान फिसलकर 41 अंक के साथ 80वें पायदान पर आ गया है। वहीं 2017 की बात करें तो उस समय भारत 40 अंक के साथ 81वें स्थान पर था। इससे पहले 2016 में भारत इस इंडेक्स में 79वें स्थान पर था। यह ज्यादा भ्रष्टाचार को दर्शाता है।

बांग्लादेश में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार

वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक 2019 की ये लिस्ट भ्रष्टाचार का आंकलन करने वाली संस्था ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल ने जारी की है। भारत के साथ-साथ चीन, घाना, बेनिन और मोरक्को का भी स्कोर 41 है। इस बार खास बात यह है कि भष्ट्राचार के मामलों में पड़ोसी देशों के मुकाबले भारत की हालत ज्यादा बेहतर है। पाकिस्तान की बात करें तो वह तीन स्थान फिसलकर 120वें स्थान पर पहुंच गया है। श्रीलंका 93वें स्थान पर है। नेपाल से भी ज्यादा भष्ट्राचार बांग्लादेश में है। बांग्लादेश 146वें स्थान पर है। जबकि नेपाल की बात करें तो वह 113 स्थान पर है। साल 2018 में नेपाल 124वें नंबर पर था।

22 देशों में कम हुआ भ्रष्टाचार

ग्लोबल करप्शन परसेप्शन इंडेक्स के अनुसार, दुनिया के दो-तिहाई देशों का स्कोर 50 से कम है और इनका औसत स्कोर 43 है। रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2012 से लेकर अब तक सिर्फ 22 देशों ने भ्रष्टाचार को कम किया है। ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और निकारागुआ के अंकों में गिरावट दर्ज की गई है।

इन देशों में न के बराबर भ्रष्टाचार

सबसे कम भ्रष्टाचार वाले देशों में डेनमार्क और न्यूजीलैंड है। इन देशों के अंक 87 है।

ये है ग्लोबल करप्शन परसेप्शन इंडेक्स 2019 के टॉप 10 देशों की लिस्ट –

  1. डेनमार्क
  2. न्यूजीलैंड
  3. फिनलैंड
  4. सिंगापुर
  5. स्टीडन
  6. स्विट्जरलैंड
  7. नॉर्वे
  8. नीदरलैंड
  9. जर्मनी
  10. लक्जमबर्ग

ये भी पढ़े…

अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस : दुनियाभर में भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने की एक पहल

कई राज्यों में कम हुई रिश्वतखोरी, एक साल में भ्रष्टाचार में आई 10% कमी, 78वें स्थान पर पहुंचा भारत

 

Related posts