लापता होने के 20 घंटे बाद भी AN-32 विमान का कोई अता-पता नहीं, 13 लोगों को ढूंढने का अभियान जारी

antonov an 32,air force plane missing

चैतन्य भारत न्यूज

भारतीय वायुसेना का विमान एएन -32 सोमवार को असम के एयरबेस से उड़ान भरने के बाद से ही लापता है। अब तक विमान के बारे में कुछ भी पता नहीं चल पाया है। एएन -32 से आखिरी बार संपर्क सोमवार दोपहर करीब 1 बजे हुआ था। इसके बाद से विमान से किसी भी तरह का संपर्क नहीं हो पाया है।

बता दें विमान में कुल 13 यात्री सवार हैं। इनमे से 8 क्रू मेंबर और 5 अन्य लोग शामिल हैं। एएन -32 को ढूंढ़ने के लिए सभी संभव संसाधन लगा दिए हैं। इसमें सी-130जे, सी-130 हरक्यूलिस, सुखोई सू-30 फाइटर जेट जैसे विमान शामिल हैं। इसके अलावा अन्य सैनिक भी विमान ढूंढ रहे हैं। भारतीय वायुसेना के मुताबिक, कुछ रिपोर्ट्स से उन्हें संभावित दुर्घटना स्थल के देखे जाने की जानकारी मिली है। विमान को खोजने के लिए भारतीय सेना, विभिन्न सरकारी और सिविल एजेंसियों पूरा प्रयास कर रही हैं। भारतीय सेना के हवाई और जमीनी दलों द्वारा रात से ही सर्च ऑपरेशन जारी है। गौरतलब है कि विमान असम से अरुणाचल प्रदेश के मेंचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड के लिए दोपहर 12:25 बजे उड़ा था। आखिरी बार उससे दोपहर 1 बजे संपर्क हुआ था। इसके बाद से ही विमान लापता है।

जानिए एएन -32 विमान के बारे में

एएन -32 का पूरा नाम एंटोनोव-32 है। इस विमान में दो इंजन लगे होते हैं। यह मिलिट्री ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट 55°C से भी ज्यादा तापमान में ‘टेक ऑफ’ कर सकता है। साथ ही यह 14,800 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है। इस विमान में पायलट, को-पायलट, गनर, नेविगेटर और इंजीनियर समेत कुल 5 क्रू-मेंबर रहते हैं। इसमें ज्यादा से ज्यादा 50 लोग सवार हो सकते हैं। भारतीय वायुसेना के मध्यम श्रेणी के विमान सेवा के लिए एएन-32 विमान रीढ़ की हड्डी जैसा है। भारतीय वायुसेना के पास फिलहाल सौ एएन-32 विमान मौजूद हैं। ये विमान मुख्य रूप से ट्रांसपोर्ट के काम में उपयोग किए जाते हैं। भारत के अलावा ये विमान श्रीलंका, अंगोला और यूक्रेन की वायुसेना के पास भी है।

ये भी पढ़े… 

उड़ान भरने के आधे घंटे बाद लापता हुआ वायुसेना का AN-32 विमान, 13 लोग थे सवार

Related posts