समृद्ध हो रहे भारत के लोग, रोज बढ़ रहे 70 लखपति

things got costly from today

चैतन्य भारत न्यूज

दीपावली पर देवी लक्ष्मी की पूजा की जाती है। लक्ष्मी धन-संपदा और समृद्धि की देवी मानी जाती हैं। तमाम बुरी सूचनाओं के बीच अच्छी खबर यह है कि भारत में लोग समृद्ध हो रहे हैं। आने वाले दस सालों में अनुमान है कि समृद्धि के मामले में भारत ब्रिटेन से आगे निकल जाएगा। यही नहीं, देश में अरबपतियों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है।

ऑक्सफैम इंटरनेशनल के मुताबिक, इस समय भारत में 119 अरबपति हैं। दो दशक में अरबपतियों की संख्या में सौ से ज्यादा की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। वर्ष 2000 में देश में केवल नौ अरबपति थे। देश में समृद्धि बढ़ने के साथ ही उनकी संख्या बढ़ती गई। 2017 तक अरबपतियों की संख्या 101 तक पहुंच गई और अब इनकी संख्या 119 है। ऑक्सफैम इंटरनेशनल के मुताबिक वर्ष 2018 से लेकर 2022 तक देश में प्रतिदिन 70 नए लोगों के लखपति होने का अनुमान है। यही नहीं, पिछले एक दशक में अरबपतियों की संपत्ति में दस गुना का इजाफा भी हुआ है।

हालांकि अरबपतियों की संख्या के मामले में चीन और अमेरिका से भारत काफी पीछे है। प्रतिष्ठित हारून ग्लोबल रिच लिस्ट के मुताबिक चीन में 799 और अमेरिका में 626 अरबपति हैं। विश्व में अरबपतियों की कुल संख्या के आधे इन दो देशों में ही हैं। हालांकि भारत ने कोरोना काल में भी इस सूची में पंद्रह अरबपति जोड़े हैं। भारत में आम आदमी भी अमीर हो रहा है। वर्ष 2008 से 2018 के बीच भारत में लोगों की निजी संपत्ति 98 फीसद तक बढ़ी है। अगले दस सालों में यह दर और तेजी से बढ़ेगी।

देश में सर्वाधिक अमीर रिलायंस समूह के मुकेश अंबानी हैं। वे पिछले तेरह साल से टॉप पर बने हुए हैं उनकी संपत्ति 88.7 अरब डॉलर है।

Related posts