भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने रचा इतिहास, पहली बार टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची

women cricket, icc womens world t20

चैतन्य भारत न्यूज

सिडनी. भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने टी-20 विश्व कप के फाइनल में पहली बार जगह बना ली है। पहला सेमीफाइनल मैच भारत और इंग्लैंड के बीच गुरुवार को सिडनी के मैदान पर खेला जाना था, लेकिन बारिश थमी नहीं इसकी वजह से बिना गेंद फेंके ही मुकाबला रद्द हो गया।



बता दें, साल 2018 में भी भारतीय टीम इस टूर्नामेंट के अंतिम चार में पहुंची थी, लेकिन उसे इंग्लैंड के हाथों हार झेलनी पड़ी थी। आईसीसी के नियम के मुताबिक किसी भी टी-20 मुकाबले का परिणाम निकलने के लिए कम से कम 10-10 ओवर का खेल होना जरुरी है, लेकिन पहले सेमीफाइनल में बारिश थमी नहीं। इसकी वजह से टॉस तक नहीं हो पाया और मुकाबला रद्द हो गया। इसी के साथ टीम इंडिया को अपने ग्रुप के प्वाइंट टेबल में टॉप पर रहने का फायदा मिला और उसे सीधे फाइनल का टिकट मिल गया है।

बता दें, टूर्नामेंट में अब तक भारतीय टीम की ओपनर शेफाली वर्मा कमाल की बल्लेबाजी कर रही हैं और उन्होंने पिछले चार मैचों में अब तक 161 रन बनाए हैं। 16 साल की शेफाली सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर है।

इस प्रकार है भारतीय महिला टीम-

हरमनप्रीत कौर (कप्तान), दीप्ति शर्मा, जेमिमा रोड्रिग्स, स्मृति मंधाना, शिखा पांडे, अरुंधति रेड्डी, शेफाली वर्मा, पूनम यादव, वेदा कृष्णमूर्ति, तानिया भाटिया, राधा यादव, पूजा वस्त्राकर, राजेश्वरी गायकवाड़, ऋचा घोष और हरलीन देओल।

ये भी पढ़े…

16 साल की शेफाली वर्मा बनीं महिला T20 में वर्ल्ड नंबर-1 बल्लेबाज

Ind vs Eng: इंग्लैंड को हराने के लिए पूरी तैयारी से उतरेगी भारतीय महिला टीम

इंग्लैंड से हारने के बाद भारतीय महिला टीम को कोच ने दी ऐसी सलाह

Related posts