टाइम मैगजीन की ‘100 वुमन ऑफ द ईयर’ की सूची में शामिल हुईं इंदिरा गांधी और अमृत कौर

indira gandhi, amrita kaur,

चैतन्य भारत न्यूज

न्यूयॉर्क.  भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और स्वतंत्रता सेनानी अमृत कौर को टाइम मैगजीन ने पिछली सदी की 100 प्रभावशाली महिलाओं की सूची में शामिल किया है। टाइम ने कौर को 1947 और इंदिरा गांधी को 1976 के लिए ‘वुमन ऑफ द ईयर’ करार दिया है। खास बात यह है कि प्रकाशन ने इसके लिए विशेष कवर भी बनाया है। टाइम ने गांधी के परिचय में लिखा है कि ‘भारत की साम्राज्ञी’ 1976 में भारत की बड़ी अधिनायकवादी बन गई थीं। जबकि कौर के परिचय में बताया गया है कि युवा राजकुमारी ऑक्सफोर्ड में पढ़ने के बाद 1918 में भारत लौटीं और शीघ्र महात्मा गांधी की शिक्षा से बेहद प्रभावित हो जाती हैं।



indira gandhi, amrita kaur,

बता दें, कौर का जन्म कपूरथला के शाही परिवार में हुआ था। उन्होंने भारत को औपनिवेशिक बेड़ियों से आजाद कराने के लिए संघर्ष किया। टाइम मैगजीन ने कहा कि, साल की 100 प्रभावशाली महिला परियोजना के जरिए हमने उन प्रभावशाली महिलाओं को सामने लाने की कोशिश की जिनकी छवि उभर कर सामने नहीं आ सकी। इसमें ऐसी महिलाएं शामिल हैं जिन्होंने उन पदों पर कब्जा कर लिया है, जहां से पुरुषों को अक्सर चुना जाता था। ‘वुमन ऑफ द ईयर’ शुरू करने का कारण बताते हुए टाइम ने कहा कि 72 वर्षों तक मैन ऑफ द ईयर दिया गया जो कि हमेशा कोई न कोई मर्द होता था। 1999 में लैंगिक रूप से संवदेनशील बनाने के लिए ‘मैन ऑफ द ईयर’ को ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ किया गया।

ये महिलाएं भी शामिल

जानकारी के मुताबिक, टाइम स्टाफ और विशेषज्ञों द्वारा कई महीने लंबी चली प्रक्रिया के बाद 600 नामांकन में से 100 प्रभावशाली महिलाओं का चयन किया गया। जिनमें डिजाइनर कोको चैनल, लेखिका वर्जीना वूल्फ, महारानी एलिजाबेथ, अभिनेत्री मार्लिन मोनरो, राजकुमारी डायना, चीनी फार्मासिटीकल केमिस्ट टू,यूयू, सादाको ओगाता और मिशेल ओबामा का नाम भी शामिल है।

ये भी पढ़े…

प्रियंका में दिखती है इंदिरा गांधी की छवि, 16 साल की उम्र में दिया था पहला सार्वजनिक भाषण

आयरन लेडी इंदिरा गांधी द्वारा लिए गए इन फैसलों ने बदल दी थी भारत की तस्वीर

हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहीं हैं लड़कियां, जानें इस दिन का इतिहास और उद्देश्य

Related posts