तेंदुए से जान बचाने के चक्कर में 2 घंटे तक पेड़ पर चढ़कर बैठा रहा युवक, वफादार पालतू कुत्ता बन गया शिकार

चैतन्य भारत न्यूज

महू. यदि आप जंगल में गए हो और आपका तेंदुए से सामना हो जाए तो आप क्या करेंगे? हम आपको आज एक ऐसी ही घटना के बारे में बता रहे हैं जिसमें एक युवक जंगल में मवेशी चराने गया था और तभी अचानक तेंदुआ आ गया जिसके बाद वह जान बचाने के लिए एक पेड़ पर चढ़ गया और पूरे 2 घंटे तक दुबके बैठा रहा। पेड़ के नीचे तेंदुआ घूम रहा था जिसका उसने अपने मोबाइल से वीडियो भी बनाया।

तेंदुए से बचने के लिए पेड़ पर दुबक कर बैठने वाले युवक का नाम अजय सिंह डाबर है। वह महू के बड़ी जाम का रहने वाला है और उसके पिता जनपद सदस्य हैं। अजय बड़ी जाम बुरालिया के जंगलों में अपने मवेशी चराने गया हुआ था। मवेशी जंगल में चर रहे थे इसी दौरान वो एक पेड़ के नीचे सो गया। अचानक मवेशियों के चिल्लाने की आवाज आई तो उसे लगा कि कुछ गड़बड़ है। वो तुरंत एक पेड़ के पीछे छिप गया तभी उसे सामने से एक तेंदुआ नजर आया। तेंदुए को अपनी तरफ आते देख अजय एक पेड़ पर चढ़ गया।

अजय के सभी मवेशी भी जान बचाकर भाग गए लेकिन अजय का वफादार कुत्ता पेड़ के नीचे ही मालिक की जान बचाने के लिए खड़ा रहा। पेड़ के नीचे ही खड़ा होकर कुत्ता तेंदुए को भोंक रहा था लेकिन तेंदुए ने उसका शिकार किया और फिर उसे खा गया। कुत्ते को खाने के बाद भी तेंदुआ पेड़ के नीचे ही करीब एक घंटे तक मंडराता रहा। अजय ने तेंदुए की ये सारी गतिविधि मोबाइल में रिकॉर्ड की लेकिन वो अपने पालतू कुत्ते को बचाने की हिम्मत नहीं जुटा सका।

तेंदुआ पेड़ के नीचे खड़ा था फिर भी अजय ने हिम्मत नहीं हारी वो तकरीबन दो घंटे तक पेड़ पर चढ़ा रहा। अजय ने बताया कि उसके मोबाइल में बेलेंस नहीं था इसलिए वो घरवालों को मोबाइल से फोन नहीं कर पाया। जिस वक्त पेड़ पर चढ़ा हुआ था तब एक दोस्त का फोन आया जिसे उसने पूरी घटना बताई और तब कहीं जाकर घरवालों को खबर लगी तो वो गांववालों को इक्कट्ठा करके जंगल पहुंचे। तब जाकर सभी मिलकर अजय को पेड़ पर से उतारकर वापस लाए। अजय ने ये भी बताया कि तेंदुए के साथ दो शावक भी थे जिससे संभवत: वो मादा तेंदुआ रहा होगा।

Related posts