बुरी नजर से बचाने के लिए लाड़ली के गले में बांधा था काला धागा, दरिंदे ने दुष्कर्म कर उसी धागे से कर दी बच्ची की हत्या

rape in indore,4 year girl rape,

चैतन्य भारत न्यूज

चार वर्षीय मासूम को अपने बच्चों के साथ खेलता देख अंदर का शैतान जाग गया। फिर वह सोती हुई बच्ची को उठा ले गया और उसका रेप कर मार डाला। घटना इंदौर के हीरा नगर क्षेत्र की है। रविवार आधी रात को आरोपी ने बच्ची का अपहरण किया और फिर उसका बलात्कार कर कुएं में फेंक दिया।

30 वर्षीय आरोपी नंदू (30) पिता शंभू गामड निवासी धतूरिया चौकी झगनावदा थाना रायपुरिया जिला झाबुआ है। वह चंपालाल वर्मा के खेत में बनी झोपड़ी में ही रहकर मजदूरी करता है। जानकारी के मुताबिक, आरोपी बच्ची के घर से कुछ ही दूरी पर अपने 8 व 10 वर्षीय बेटों और पत्नी के साथ झोपड़ी में रहता है। बच्ची नंदू के दोनों बेटों के साथ खेलती थी। एक दिन उसने बच्ची को अपने बेटों के साथ खेलता हुआ देखा। रविवार रात वह शराब पीकर आया और सोती हुई बच्ची को उसकी मां के पास से उठाकर खेत में ले गया।

खेत में ले जाकर वह बच्ची का बलात्कार करने लगा। बच्ची को नजर न लगे इसलिए मां ने उसके गले में काला धागा बांधा हुआ था लेकिन उसी काले धागे से आरोपी ने बच्ची की जान ले ली। दरअसल, जब दर्द के कारण बच्ची रोने लगी तो उसके गले में बंधे काले धागे से बच्ची का गला घोंट दिया। बच्ची मरने की अवस्था में पहुंच गई लेकिन तब भी उसने दुष्कर्म करने की कोशिश की। पहचान उजागर न हो इस डर से उसने बच्ची को 60 फीट गहरे कुएं में फेंक दिया और फिर घर जाकर सो गया। रात को जब बच्ची के पिता ने शोर मचाया तो सभी लोग बच्ची को ढूंढने लगे। ऐसे में नंदू भी दिखावट करने के लिए बच्ची को ढूंढने में मदद करने लगा।

सुबह उठकर वह मजदूरी करने चला गया। फिर वह अपने एक साथी के साथ चुनावी रैली में झंडा उठाने चला गया। रात में वह वापिस शराब पीकर घर आया। इसके बाद पुलिस ने शक के आधार पर उसे पकड़ा। पहले तो उसने पलिस को गुमराह करने की कोशिश की। लेकिन फिर उसके कपड़ों की जांच की गई। साथ ही उसके पैरों पर बच्ची के नाखूनों के भी निशान मिले। पूछताछ में उसने कहा कि, उसकी पत्नी सौमी उसे मजाक में कभी-कभी चिकोटी काटती है। पुलिस ने जब सौमी से इस बारे में पूछा तो उसने कहा कि, चिकोटी तो काटती हूं लेकिन गले और हाथ पर। इसके बाद जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो नंदू ने बलात्कार कर हत्या करने की बात कबूल ली। उसका कहना है कि, शराब पीने के बाद पत्नी ने करीब नहीं आने दिया। फिर उसने देर रात बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी ने ये भी कहा कि, बच्ची पर कभी उसकी बुरी नजर नहीं थी, लेकिन उस दिन ऐसा क्यों हुआ वह खुद नहीं समझ सका। वहीं बच्ची का शव इतनी बुरी हालत में देख मां बोली- ‘मुझे मार देते, मेरी लाड़ली को क्यों मार दिया…।

ये भी पढ़े…

चलती ट्रेन से दो साल की मासूम को बाहर फेंका, ऐसे बची जान

Related posts