क्रिकेटर से एक्टर तक कुछ ऐसा था इरफान खान का संघर्षभरा सफर

चैतन्य भारत न्यूज

आज देश ने अपना एक नायाब सितारा खो दिया। बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का बुधवार को निधन हो गया। इरफान मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती थे। पूरे बॉलीवुड में इस खबर के बाद शोक की लहर है और ढेरों लोग सोशल मीडिया पर इरफान को श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

इरफान ऐसे अभिनेता थे जिनकी अदाकारी का फिल्म आलोचक भी लोहा मानते रहे हैं। 7 जनवरी 1967 को राजस्थान के मुस्लिम पश्तून परिवाAll Postsर में जन्में इरफान कभी क्रिकेटर हुआ करते थे लेकिन फिर उन्होंने यह राह छोड़कर एक्टिंग के मैदान में कदम रखा। आइए जानते हैं इस महान अभिनेता के क्रिकेटर से एक्टर बनने तक के सफर और उनके कैंसर से युद्ध की कहानी के बारे में-

इरफान ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि स्कूल के दिनों में वह पढ़ने में बहुत तेज नहीं थे, लेकिन खेल में उनका खूब मन लगता था। सबसे ज्यादा उन्हें क्रिकेट खेलना पसंद था। इरफान निरंतर प्रयत्न करते रहे और फिर बाद में उनका सीके नायडू टूर्नामेंट (23 साल से कम के उभरते खिलाड़ियों के लिए) में सेलेक्शन हो गया। लेकिन फंड की कमी के कारण टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया। घरवाले भी तैयार नहीं थे, और फिर उनका क्रिकेट छूट गया।

इरफान खान ने कई बार इंटरव्यू में इसका जिक्र भी किया है कि, कैसे क्रिकेट छोड़कर उनसे ग्रेजुएशन करने को कहा गया और भारी-भरकम विषय भी दिला दिए गए। इरफान ने कहा था कि, ‘घर वालों ने ऐसे विषय दिला दिए जिससे मेरा ध्यान पढ़ाई में ही लगा रहे। वो उस पढ़ाई को सीरियस भी लेने लगे थे। फिर ग्रेजुएशन के साथ ही इरफान का रुझान एक्टिंग की तरफ हो गया।’

पहले तो इरफान नए कलाकारों के साथ एक्टिंग सीखते लगे। फिर उनकी मुलाकात एनएसडी के एक कलाकार से हुई। इरफान उनके साथ ही कॉलेजों में जाकर नाटक करने वाली उनकी टीम में शामिल हो गए। वहीं से उनकी एक्टिंग के प्रति समझ बढ़ी और मैं इस दिशा में करियर को लेकर गंभीर हो गए। इसके बाद इरफान को टीवी सीरियल्स और फिल्मों में रोल मिलने लगे और धीरे-धीरे वह बॉलीवुड में पहचाने जाने लगे।

इरफान ने साल 1995 में एनएसडी की साथी सुतापा सिकदर से शादी की। बॉलीवुड में उनके किरदार इस कदर लोगों को भाए कि वो फिल्म फेयर से लेकर हर बड़े अवार्ड जीतने के हकदार हो गए। उनका करियर अच्छा चल रहा था कि इसी बीच 16 मार्च 2018 को इरफान ने एक ट्वीट कर अपनी बीमारी के बारे में बताकर बॉलीवुड में हलचल मचा दी। उन्होंने लिखा था- ‘जिंदगी में अचानक कुछ ऐसा हो जाता है जो आपको आगे लेकर जाता है। मेरी जिंदगी के पिछले कुछ दिन ऐसे ही रहे हैं। मुझे न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी हुई है। लेकिन मेरे आसपास मौजूद लोगों के प्यार और ताकत ने मुझमें उम्मीद जगाई है।’ दो साल तक कैंसर से लड़ने के बाद भी इरफान ने अपनी एक फिल्म में काम पूरा किया। बस फिर उन्होंने 29 अप्रैल को दुनिया को अलविदा कह दिया।

अभिनेता इरफान खान का निधन, इस बीमारी से थे पीड़ित, चार दिन पहले ही मां का इंतकाल हुआ था

कैंसर का इलाज कराकर लौटे इरफान खान ने शुरू की फिल्म की शूटिंग

अंग्रेजी मीडियम रिव्यू: फीकी कहानी में जान डालती इरफान-दीपक की शानदार एक्टिंग

Related posts