राजस्थान सियासी संग्राम : सीएम गहलोत का दावा- भाजपा में पड़ी फूट, हमारी होगी जीत

चैतन्य भारत न्यूज

जयपुर. राजस्थान में अब भी सियासी संकट जारी है। इसी बीच राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी को लेकर बड़ा बयान दिया है। सीएम गहलोत ने कहा कि, ‘अब भारतीय जनता पार्टी ( BJP) के विधायक बाड़ेबंदी पर जा रहे हैं क्योंकि इनकी पोल खुल गई है। सरकार में तो हम लोग हैं। राज्य में विधायकों की होर्स ट्रेडिंग हो रही थी इसलिए हमें सबको एक साथ रखना पड़ा। भाजपा तीन-चार जगहों पर बाड़ेबंदी कर रही है वो भी चुन-चुन कर। मुझे इनमें फूट पड़ती दिख रही है।’


इतना ही नहीं बल्कि मुख्यमंत्री गहलोत ने यह भी कहा कि, ‘बीजेपी नेताओं और हमारी पार्टी छोड़ चुके लोगों के खिलाफ हर घर में गुस्सा है। मेरा मानना है कि वे भी इसे समझते हैं और उनमें से अधिकांश हमारे पास लौट आएंगे।’ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि, ‘हमारी लड़ाई डेमोक्रेसी को बचाने की लड़ाई है, वो जारी रहेगी। विजय हमारी होगी, विजय सत्य की होगी, विजय प्रदेशवासियों की होगी, विजय उन तमाम विधायकों की होगी चाहे पक्ष में हैं चाहे विपक्ष में हैं, जो चाहते हैं कि सरकारें अस्थिर नहीं होनी चाहिए।’

पार्टी विधायकों को दी ये नसीहत

गौरतलब है कि 14 अगस्त से राजस्थान में विधानसभा सत्र शुरू होगा। इसमें बहुमत परीक्षण भी करवाया जा सकता है। ऐसे में सत्र से पहले ही सीएम गहलोत ने सभी विधायकों के नाम एक चिट्ठी लिखकर उनसे सच्चाई का साथ देने और लोकतंत्र बचाने की अपील की है। मुख्यमंत्री गहलोत ने पत्र में लिखा है कि, ‘चुनाव में हार-जीत होती रहती है और जनता का फैसला ही शिरोधार्य होता है। यही हमारी परंपरा रही है।’ अशोक गहलोत ने यह भी कहा है कि, ‘वर्तमान में जो सियासी घटनाक्रम चल रहा है, उसे लेकर षड़यंत्र रचने वाले जनप्रतिनिधियों के खिलाफ जनता में भयंकर आक्रोश है। सीएम गहलोत सभी विधायकों से अपील की है कि जनता का विश्वास बरकरार रखने और गलत परम्पराओं से बचने के लिए उन्हें आम लोगों की आवाज सुननी चाहिए। उन्होंने कहा कि, ‘परिवारजनों और अपने क्षेत्र की जनता की भावनाओं को समझकर वे यह सुनिश्चित करें कि चुनी हुई सरकार अपना काम करती रहे और सरकार को अस्थिर करने के मंसूबे कामयाब न हो सके।’

Related posts