अब जैश-उल-हिंद ने अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने से किया इनकार, कहा- हमारी लड़ाई मोदी से है ना कि अंबानी से

चैतन्य भारत न्यूज

देश के दिग्गज उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली संदिग्ध कार ने पूरे देश में हड़कंप मचा दिया। इस विस्फोटक से भरी गाड़ी के मामले में जैश-उल हिंद नाम के एक संगठन ने टेलीग्राम ऐप के जरिए जिम्मेदारी ली थी। लेकिन अब संगठन ने इस बात से इनकार किया है और नया खुलासा किया है।

जैश-उल-हिंद ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया है और उसमें लिखा है कि, उसने मुकेश अंबानी को कभी कोई धमकी नहीं दी थी। संगठन ने कहा कि, उसके नाम से जो पत्र वायरल हो रहा है, वो फर्जी है। उसकी लड़ाई नरेंद्र मोदी से है ना कि अंबानी से। इतना ही नहीं बल्कि संगठन ने आगे लिखा कि, ‘भारतीय मीडिया यह खबर चला रही है कि जैश-उल-हिंद ने मुकेश अंबानी के घर के बार विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी ली है। लेकिन हम साफ करना चाहते हैं कि हमारे संगठन का इस मामले से कोई संबंध नहीं है।

ये है मामला

25 फरवरी को मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया संदिग्ध कार और 20 जिलेटिन की छड़ें मिली थीं। बुधवार रात एक बजे के करीब एंटीलिया के बाहर स्कॉर्पियो खड़ी की गई थी। यहां दो गाड़ियां देखी गई थी जिसमें एक इनोवा कार भी शामिल थी। गाड़ी का ड्राइवर उसे यहीं पार्क कर चला गया था। घर के बाहर संदिग्ध कार दिखने के बाद अंबानी के घर के सुरक्षाकर्मियों ने स्थानीय पुलिस को सूचित किया था जिसके बाद मामले की जांच शुरू कर दी गई थी।

गाड़ी में रखा था धमकी भरा पत्र

सूत्रों के मुताबिक, इस संदिग्ध गाड़ी में से एक पत्र भी मिला था, जो हाथ से लिखा गया था। सूत्रों ने बताया था कि चिट्ठी में लिखा है, ‘ये तो सिर्फ एक ट्रेलर है। नीता भाभी, मुकेश भैया, ये तो सिर्फ एक झलक है। अगली बार सामान पूरा होकर तुम्हारे पास आएगा और पूरा इंतजाम हो गया है।’

गौरतलब है कि जैश-उल हिंद ने कुछ दिन पहले दिल्ली में इज़रायल एम्बेसी के बाहर ब्लास्ट की ज़िम्मेदारी ली थी। इस संगठन की तरफ से बिटकॉइन से पैसे की डिमांड भी की गई थी।

Related posts