DSP देविंदर सिंह को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने किया बर्खास्त, कई सालों से कर रहा आतंकियों की मदद

devinder singh

चैतन्य भारत न्यूज

श्रीनगर. दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम जिले में हिजबुल मुजाहिदीन आतंकियों के साथ गिरफ्तार किए गए डीएसपी देविंदर सिंह के खिलाफ बड़ी कार्रवाई हुई है। जानकारी के मुताबिक, जम्मू कश्मीर पुलिस ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर देविंदर सिंह को बर्खास्त करने की मांग की थी, जिसे अब जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मंजूर कर लिया गया है। इसे लेकर एक आदेश जारी किया गया है।


आतंकी से भी पूछताछ की गई

बता दें शनिवार को देविंदर सिंह को दो आतंकियों के साथ पकड़ा गया था। वह पिछले कुछ दिनों से छुट्टी पर था। देविंदर सिंह संसद पर हमला करने वाले आतंकियों की मदद करने के मामले में भी जांज एजेंसियों के निशाने पर है। कई इंटेलिजेंस एजेंसियां देविंदर से पूछताछ कर रही हैं। साथ ही एजेंसियों ने गिरफ्तार आतंकियों में से एक हिज्बुल आतंकी नवीद बाबू से भी पूछताछ की जिसमें उसने कई अहम खुलासे किए हैं।

दिल्ली, जम्मू, पंजाब दहलाने की साजिश

नवीद ने बताया कि उसके मां-बाप दिल्ली में रहते हैं और उसका भाई चंडीगढ़ में पढ़ाई कर रहा है। पूछताछ के दौरान नवीद ने बताया कि, वह अपने माता-पिता से मिलना चाहता था। पिछले साल भी उसने अपने माता-पिता के साथ जम्मू में कुछ समय बिताया था और उस समय देविंदर ने उसकी मदद की थी। जांच एजेंसियों को यह भी पता चला कि आतंकियों के साथ मिलकर देविंदर न सिर्फ दिल्ली को दहलाने की साजिश नहीं रच रहा था, बल्कि उसके निशाने पर जम्मू, पंजाब और चंडीगढ़ भी थे।

कैसे पकड़ा गया डीएसपी?

जम्मू-कश्मीर की पुलिस ने जिन दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है उनमें हिजबुल का शोपियां जिला कमांडर सईद नवीद मुश्ताक तथा आसिफ डार शामिल हैं। इन तीनों को उस समय पकड़ा गया जब ये एक साथ एक कार में सवार होकर कहीं जा रहे थे। पुलिस का कहना है कि, गाड़ी डीएसपी ही चला रहे थे। डीएसपी के घर से छापेमारी के दौरान दो AK-47 राइफल्स और ग्रिनेड मिले हैं। साथ ही गाड़ी से 1.47 लाख रुपए भी मिले हैं।

ये भी पढ़े…

DSP देविंदर सिंह ने आतंकियों से 12 लाख में की थी ये डील, IB और रॉ करेगी पूछताछ, राष्टपति मेडल छीना जा सकता

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों के साथ पकड़ा गया यह डीएसपी, मिल चुका है राष्ट्रपति पुरस्कार

 

Related posts