10 मिनट 10 सेकंड में पहुंचे अंतरिक्ष, एक सीट 209 करोड़ रुपये की, देखें तस्वीरें और वीडियो

चैतन्य भारत न्यूज

20 जुलाई 2021 को ब्लू ओरिजिन ने न्यू शेफर्ड कैप्सूल से चार निजी यात्रियों को अंतरिक्ष की यात्रा कराई। इन यात्रियों में शामिल थे- जेफ बेजोस, मार्क बेजोस, वैली फंक और ओलिवर डैमेन। न्यू शेफर्ड कैप्सूल से समुद्र तल से 106 किलोमीटर ऊंचाई तक उड़ान भरी, जिसमें कुल 10 मिनट 10 सेकेंड का वक्त लगा। इन चारों लोगों ने 100 किलोमीटर ऊपर कारमान लाइन को पार किया। बता दें अंतरिक्ष की सीमा की शुरुआत कारमान लाइन से ही होती है। इसे ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अंतरिक्ष की सीमा कहा जाता है। लैंडिंग के बाद जेफ बेजोस खुशी से उछल पड़े और कहा कि ये मेरी जिंदगी का सबसे बेहतरीन दिन है।


चारों अंतरिक्ष यात्रियों की यात्रा की शुरुआत वेस्ट टेक्सास के ब्लू ओरिजिन लॉन्च साइट-1 से शाम करीब 6:45 बजे हुई। शाम को करीब 6:15 बजे चारों अंतरिक्षयात्री न्यू शेफर्ड कैप्सूल में बैठ चुके थे। कैप्सूल के हैच को बंद कर दिया गया था। हैच बंद करने से पहले अंतरिक्ष यात्रियों टेक्नीशियन और इंजीनियर्स बैठने और यात्रा संबंधी सभी नियमों की जानकारी दोबारा बताई। ब्लू शेफर्ड कैप्सूल का रॉकेट उसे 3,595 किलोमीटर प्रतिघंटा की अधिकतम गति से अंतरिक्ष की ओर गया। करीब 4 मिनट अंतरिक्ष में जीरो ग्रैविटी का आनंद लेने के बाद यह धरती की तरफ लौटा। जीरो ग्रैविटी के समय कैप्सूल की ऊंचाई करीब 107 किलोमीटर थी। यहां पर चारों अंतरिक्ष यात्रियों ने भारहीनता का मजा लिया। कैप्सूल के अंदर वो ऐसे उड़ रहे थे जैसे उनके शरीर का वजन खत्म हो गया है।

जीरो ग्रैविटी फील कराने के बाद न्यू शेफर्ड कैप्सूल ने धरती की ओर लौटना शुरू किया। इस बीच रॉकेट बूस्टर ने लैंडिंग साइट पर सुरक्षित लैंडिंग की। हैरानी की बात ये थी रॉकेट ने कैप्सूल को कारमान लाइन से करीब 1 किलोमीटर पहले छोड़ा था। उसके बाद की यात्रा कैप्सूल ने रॉकेट की ऊर्जा के उपयोग से पूरी की थी। उसके बाद उसने अंतरिक्ष में करीब चार मिनट का समय बिताया था।


पैराशूट खुलने से पहले कैप्सूल की गति 26 किलोमीटर प्रति घंटा थी, पैराशूट खुलने के बाद इसकी गति कम होकर 1:6 किलोमीटर प्रति घंटा हो गई थी। इस गति में लैंडिंग इसलिए कराई गई ताकि कैप्सूल जमीन से तेजी से न टकराए। इस ऐतिहासिक यात्रा में चार बड़े रिकॉर्ड बने। जो अंतरिक्ष यात्रा का नया इतिहास है। पहला- 82 वर्षीय वैली फंक अंतरिक्ष की यात्रा करने वाली सबसे बुजुर्ग व्यक्ति बन गईं। दूसरा- 18 वर्षीय ओलिवर डैमेन पहले कॉमर्शियल यात्री और सबसे कम उम्र के अंतरिक्ष यात्री बने। तीसरा- पूरी लॉन्चिंग और लैंडिंग ऑटोमैटिक थी। चौथा- पहली बार दो भाई जेफ बेजोस और मार्क बेजोस ने एक साथ अंतरिक्ष की यात्रा की।

एक सीट का इतना है किराया

जानकारी के मुताबिक, ब्लू ओरिजिन कंपनी ने इस उड़ान के लिए किराए की जानकारी नहीं दी है। हालांकि, कंपनी ने कुछ समय पहले जब इस उड़ान के लिए सीटों की बोली लगाई थी, तब एक शख्स ने 28 मिलियन डॉलर यानी करीब 209 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी। हालांकि, शेड्यूल में कुछ दिक्कत होने के चलते उसने पहली उड़ान में जाने की योजना टाल दी थी। बताया जा रहा है कि वह ब्लू ओरिजिन की अगली उड़ानों में अंतरिक्ष का सफर तय कर सकते हैं।

 

Related posts