हेमंत सोरेन के सिर पर सजा झारखंड का ताज, 27 को लेंगे शपथ, कांग्रेस ने की उप-मुख्यमंत्री पद की मांग

hemant soren

चैतन्य भारत न्यूज

रांची.  झारखंड विधानसभा चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) गठबंधन को प्रचंड बहुमत मिला है। इसी के साथ उनके हाथों में प्रदेश की सत्ता की चाबी आ गई है। झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) प्रमुख शिबू सोरेन के बेटे हेमंत सोरेन ने विधानसभा चुनाव में सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को पटखनी देते हुए दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ कर लिया। इसी के साथ रघुवर दास का लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने का सपना करारी शिकस्त के साथ टूट गया।


गठबंधन के हाथ 47 सीटें

बता दें झारखंड विधानसभा चुनाव पांच चरणों में संपन्न हुआ था और सोमवार को इसके नतीजे सामने आए। राज्य की 81 सदस्यीय विधानसभा में हेमंत सोरेन की अगुवाई वाले गठबंधन ने पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है। गठबंधन ने 81 में से 47 सीटें जीती हैं। इसमें जेएमएम के खाते में 30, कांग्रेस को 16 और आरजेडी को 1 सीट पर जीत मिली। जबकि जेवीएम को 3, आजसू के खाते में 2 सीटें, सीपीआईएमएल और एनसीपी के खाते में एक-एक सीट गई।

27 दिसंबर को लेंगे शपथ

इस जीत के बाद अब गठबंधन के नेता जल्द ही सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। सूत्रों के अनुसार, हेमंत सोरेन 27 दिसंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले लेंगे। उनके साथ ही जेएमएम के 6, कांग्रेस के 5 और आरजेडी के कोटे से एक मंत्री शपथ लेंगे। यानी सोरेन के साथ कुल 12 मंत्री शपथ लेंगे।

कांग्रेस ने की उप मुख्यमंत्री पद की मांग

जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस ने उप मुख्यमंत्री पद की मांग की है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस पूर्व केंद्रीय मंत्री और सूबे के वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय के लिए उपमुख्य मंत्री का पद मांगा है। बता दें झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 में बीजेपी को महज 25 सीटों पर ही संतोष करना पड़ा है। पिछली बार 2014 में हुए बीजेपी ने 72 सीटों पर चुनाव लड़ा था और 37 सीटें पर जीत हासिल की थी।

रघुवर दास ने सौंपा इस्तीफा

हार के बाद सोमवार शाम रघुवर दास ने राजभवन जाकर राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को मुख्यमंत्री पद से अपना इस्तीफा सौंप दिया। हालांकि, नई सरकार के गठन तक वह कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहेंगे। बता दें रघुवर दस ने जमशेदपुर (पूर्व) सीट से चुनाव लड़ा था जिसमें उन्हें उनके ही मंत्री रहे सरयू राय से 15833 वोटों के अंतर से हार का मुंह देखना पड़ा। रघुवर दास की हार झारखंड विधानसभा चुनाव का सबसे चौंकाने वाला परिणाम है।

ये भी पढ़े…

झारखंड चुनाव परिणाम 2019 : बीजेपी की हुई विदाई, जानें झारखंड के नए मुखिया हेमंत सोरेन के बारे में

झारखंड चुनाव परिणाम : BJP को झटका, JMM गठबंधन ने बहुमत का आंकड़ा किया पार

झारखंड Exit Poll: बीजेपी के हाथ से सत्ता जाने का अनुमान, विपक्षी गठबंधन ताकतवर

Related posts