पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ झारखंड में केस दर्ज, जानें पूरा मामला

amit shah,narendra modi, jharkhand,ranchi,lower court,ranchi lower court

चैतन्य भारत न्यूज

रांची. झारखंड हाईकोर्ट के वकील हरेंद्र कुमार सिंह ने रांची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप लगाया है। उन्होंने कोर्ट से अनुरोध किया है कि तीनों आरोपी अपने चुनाव घोषणा पत्र में किए वादे से मुकर गए हैं, इसलिए तीनों के खिलाफ संज्ञान लेकर धोखाधड़ी के मुकदमे की सुनवाई शुरू की जाए।



हरेंद्र ने अपनी शिकायत में कहा कि, ‘साल 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार पीएम मोदी ने कहा था कि विदेशों से कालाधन लाएंगे। सभी भारतीयों के खाते में 15-15 लाख रुपए डालेंगे। साथ ही हर साल तीन लाख सरकारी नौकरियां देंगे। यह बातें भाजपा के घोषणा पत्र में भी थीं।’

हरेंद्र के मुताबिक, मोदी ने यह वादा 7 नवंबर 2013 को छत्तीसगढ़ में किया गया था। यही भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने भी किया था। शाह ने एक इलेक्ट्रॉनिक चैनल को 5 फरवरी 2015 को कालाधन आने पर भारतीयों को 15-15 लाख रुपए मिलने की बात को लोकोक्ति कहा और इसे चुनावी उद्देश्य बताया था।

वहीं केंद्रीय राज्यमंत्री रामदास अठावले ने 18 दिसंबर 2018 को महाराष्ट्र के सांगली में भरोसा दिलाया था कि कालाधन आने पर 15-15 लाख प्रत्येक भारतीय को मिलेंगे। इतना ही नहीं बल्कि हरेंद्र ने शाह द्वारा दिए एक इंटरव्यू का भी हवाला दिया है। हरेंद्र ने कहा है कि, पीएमओ से जानकारी मांगी तो कहा गया कि यह आरटीआई के दायरे से बाहर है, जिसके बाद यह मुकदमा दर्ज किया गया।

ये भी पढ़े…

ऐसा रहा अमित शाह का शेयर ब्रोकर से राजनीति के शहंशाह बनने का सफर, जेल भी जा चुके हैं

नए साल में पीएम मोदी ने 6 करोड़ किसानों को दिया तोहफा, खाते में ट्रांसफर की 12000 करोड़ की राशि

किसान ने बनाया पीएम मोदी का मंदिर, रोज सुबह-शाम करता है पूजा-पाठ

Related posts