जेएनयू में हुए हमले का खुलासा, ABVP-लेफ्ट कार्यकर्ताओं ने नकाब पहन की थी हिंसा

jnu violence,jnu violence case

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में हुई हिंसा की दिल्ली पुलिस जांच कर रही है। दावा किया जा रहा है कि छात्रों के साथ मारपीट की ये घटना सुनियोजित थी और इसकी प्लानिंग व्हाट्सएप ग्रुप्स के जरिए की गई। जिसमें कुछ लोग हिंसा की बात करते हुए देखे जा सकते। ये लोग एक दूसरे को कॉमरेड कह रहे हैं और इनके नाम के साथ वामपंथी संगठनों का नाम लिखा हुआ है।



jnu violence,jnu violence case

जानकारी के मुताबिक, इसी चैट के आधार पर लोगों की तलाश की जा रही है, जो चैट में शामिल थे उनको लेकर पुलिस अलर्ट है। कहा जा रहा है कि, व्हाट्सएप चैट के जरिए ही लोगों को कैंपस में इकट्ठा किया गया, जिसके बाद भीड़ इकट्ठा हुई। पुलिस की शुरुआती जांच में खुलासा हुआ है कि नकाब पहनकर जिन लोगों ने यूनिवर्सिटी कैंपस में हिंसा की थी उसमें अखिल भारतीय विद्या परिषद (ABVP) और लेफ्ट के कार्यकर्ता ही शामिल थे। इन्हीं नकाबपोशों ने यूनिवर्सिटी कैंपस में तबाही मचाई थी, जिसमें 30 से अधिक लोग घायल हो गए थे।

jnu violence,jnu violence case

दिल्ली पुलिस सूत्रों की मानें तो एबीवीपी और लेफ्ट कार्यकर्ताओं ने हिंसा करते वक्त अपने चेहरे को ढक लिया था। इस दौरान बाहरी लोग बुलाए गए, जिन्हें पुलिस ने पहचान लिया है। गौरतलब है कि रविवार को जेएनयू में दर्जनों नकाबपोश लोगों ने आकर तोड़फोड़ की थी। इस दौरान छात्रों, फैकल्टी पर हमला किया गया जिसमें 30 से अधिक छात्र घायल भी हो गए थे।

ये भी पढ़े…

उद्धव ठाकरे ने 26/11 आतंकी हमले से की JNU हिंसा की तुलना, कही यह बात

JNU में कैसे भड़की हिंसा की आग? प्रशासन ने बताया किस तरह नकाबपोशों ने कैंपस में घुसकर किया हमला

JNU हिंसा पर भावुक हुईं स्वरा भास्कर, वीडियो शेयर कर लोगों से की जेएनयू पहुंचने की अपील

Related posts