बेटे के बल्ला कांड पर बोले कैलाश विजयवर्गीय- मोदी जी पिता तुल्य हैं, उनकी डांट से आकाश में सुधार ही होगा

pm modi,,kailsh vijayvargiya

चैतन्य भारत न्यूज

इंदौर. बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के बल्ला कांड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीखी टिप्पणी की थी। इसके बाद से ही आकाश मुसीबतों के घेरे में हैं। चूंकि मामला सीधे प्रधानमंत्री से जुड़ा है इस वजह से पार्टी पदाधिकारी भी इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे हैं। इसी बीच आकाश के पिता और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि, मोदी जी परिवार के मुखिया और पिता तुल्य हैं, उनकी कही बात में भी अपनापन छिपा है।

मीडिया से बातचीत के दौरान कैलाश ने पीएम मोदी द्वारा दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, ‘बीजेपी एक परिवार की तरह है और सबसे अनुशासित पार्टी भी है। पार्टी में अगर किसी से कोई गलती होती है तो पिता और मुखिया का अधिकार होता है कि वो उसे डांटे और समझाए। अनुशासन सभी के लिए एक जैसा लागू होता है।’ कैलाश ने आगे कहा कि, ‘आकाश के लिए पीएम मोदी के ये शब्द राजनीति में नई उर्जा देने का काम करेंगे। पार्टी का नेतृत्व जो भी कहता या करता है, वो सभी के लिए हमेशा सर्वमान्य होता है।’

बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी पर तंज कसा था। उन्होंने ट्वीट में लिखा था कि, ‘यदि प्रधानमंत्री मोदी आकाश को निष्कासित करते हैं तो मोदी जी आपको बधाई। अगर ऐसा नहीं होता है तो यही कहेंगे कि आपकी कथनी और करनी में बहुत अंतर है और आपकी नीयत साफ नहीं है।’ उन्होंने अपने ट्वीट में गृह मंत्री अमित शाह पर भी निशाना साधते हुए कहा था कि, ‘मुझे नहीं लगता कि अमित शाह जी, अपने प्रिय मित्र कैलाश विजयवर्गीय के बेटे का कोई नुकसान होने देंगे।’

जानकारी के मुताबिक, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह बुधवार को भोपाल पहुंचे हैं। इसके बाद से ही ये कयास लगाए जा रहे हैं कि प्रदेश संगठन अब जल्द ही आकाश को नाेटिस दे सकता है। पार्टी सूत्रों की मानें तो केंद्रीय संगठन ने इस कार्रवाई को हरी झंडी दे दी है।

गौरतलब है कि 26 जून को आकाश ने नगर निगम अधिकारियों की बल्ले से पिटाई की थी। इसके बाद वह 4 दिन जेल में भी रहे और फिर 30 जून को आकाश को जमानत मिल गई थी। मंगलवार को पीएम मोदी ने आकाश का नाम लिए बिना कहा था कि, ‘वह चाहे किसी का भी बेटा क्यों न हो, ऐसा बर्ताव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्हें तुरंत पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाना चाहिए।’ पीएम ने यह भी कहा था कि, ‘जिन लोगों ने जमानत पर रिहा होने पर उनका स्वागत किया है, उन्हें भी पार्टी में रहना का कोई हक नहीं है। सभी को पार्टी से निकाल देना चाहिए।’

ये भी पढ़े… 

आकाश विजयवर्गीय पर नाराज हुए पीएम मोदी, कहा- किसी का भी बेटा हो, उसे पार्टी से निकाल देना चाहिए

विधायक आकाश विजयवर्गीय को विशेष कोर्ट से मिली जमानत

बल्ला कांड के बाद गूगल सर्च में शीर्ष पर रहे आकाश विजयवर्गीय, दुनियाभर में हुए ट्रोल

Related posts